दर्शन के लिए मंदिरों को ऑनलाइन करने वाला पहला राज्य बना उत्तराखंड

  • नैनीताल जिले के मीडिया प्रभारी भुवन भट्ट ने देहरादून जाकर सतपाल महाराज को दी बधाई
  • नवरात्र पर एक ही जगह से हो सकेंगे गढ़वाल और कुमाऊं के सभी मंदिरों के ऑनलाइन दर्शन
देहरादून में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज को उपलब्धि के लिए बधाई देते नैनीताल जिले के मीडिया प्रभारी भुवन भट्ट। न्यूज़ जंक्शन 24

NewsJunction24/Haldwani

Prime minister नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया को प्रमोट करने और पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से गढ़ी कैंट, देहरादून में पर्यटन विभाग ने कार्यालय खोला है जहां उत्तराखंड के सभी मंदिरों के ऑनलाइन दर्शन किए जा सकेंगे। पर्यटन मंत्री की इस उपलब्धि पर नैनीताल भाजपा के जिला मीडिया प्रभारी व वरिष्ठ नेता भुवन भट्ट ने देहरादून जाकर पर्यटन एवं धर्म संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज से मुलाकात की। साथ ही उन्हें इस नेक कार्य के लिए शुभकामनाएं दीं।

शहर लौटने पर उन्होंने पत्रकारों को बताया कि यह एक अच्छी पहल है। उत्तराखंड देव भूमि है। देश-विदेश से हजारों की संख्या में भक्त यहां माता के दर्शन के लिए पहुंचते हैं। गढ़वाल में भी माता के काफी प्रसिद्ध मंदिर हैं। साथ ही कुमाऊं में भी मां की अपार कृपा बरसती है।

इन सभी मंदिरों का एक ही जगह पर ऑनलाइन दर्शन होना सौभाग्य की बात है। इसका श्रेय पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज को ही जाता है।

दूरी की वजह से अब तक भक्त प्रदेश के सभी मंदिरों के दर्शन नहीं कर पाते थे। गढ़वाल के मंदिरों के दर्शन किए तो कुमाऊं मंडल छूट जाता था लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। देहरादून स्थित पर्यटन कार्यालय में नवरात्र पर सभी मंदिरों के एक साथ दर्शन ऑनलाइन संभव हो सकेंगे। इतना ही नहीं मंदिरों तक जाने का रास्ता भी यहां बताया जाएगा। इससे प्रदेश में पर्यटन भी बढ़ेगा।

इस मौके पर जिला धर्म एव संस्कृति संयोजक संजय पाण्डे, विस्तारक महेश पाठक (गोलू), मंडल मंत्री निमा नैनवाल, किशन उपाध्याय, दीपक पाण्डे, सुरेश पंत, कैलाश पंत (पहाड़ी बाबा)मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.