अधिवेशन में भाजपा सरकार पर मनमोहन सिंह ने बोला हमला

New Delhi/ Agency 

नई दिल्ली। कांग्रेस के 84वें अधिवेशन के आखिरी दिन पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भाजपा सरकार पर हमला बोला। संबोधित करते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि पीएम मोदी ने चुनाव के दौरान देश की जनता से जो बड़े-बड़े वायदे किए थे वह आजतक पूरे नहीं किए गए। सरकार का कहना था कि वह हर साल दो करोड़ लोगों को रोजगार देगी, लेकिन नतीजा यह रहा कि वह 2 लाख लोगों को भी नौकरी नहीं दे सकी। भाजपा सरकार की नीतियों से देश की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई है।

भाजपा की नीतियां जनविरोधी

पूर्व पीएम ने नोटबंदी को लेकर भी सरकार को कटघरे में खड़ा किया उन्होंने कहा कि जिस तरह से नोटबंदी को लागू किया गया उसकी वजह से लाखांें लोगों का रोजगार छिन गया। जीएसटी लागू होने से व्यापार को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा। पाकिस्तान के साथ रिश्तों को लेकर मनमोहन सिंह ने कहा कि आतंकवाद की समस्या को खत्म करने के लिए दोनों देशों को आपस में बातचीत करनी होगी। उन्होंने कहा कि सीमा पार से हो रहे आतंकवाद को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सिंह ने कहा कि जिस तरह के हालात मौजूदा समय में जम्मू कश्मीर के हैं वैसे पहले कभी नहीं थे। यहां के हालात लगातार खराब हुए हैं। मनमोहन सिंह ने कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों की वजह से हमारी सीमाएं असुरक्षित हो गई हैं। क्रॉस बॉर्डर आतंकवाद से निपटने के लिए सरकार के पास कोई रास्ता नहीं है। उन्होने जम्मू कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बताते हुए कहा कि हमे यहां की समस्याओं को भी देखना होगा और लोगों की समस्याओं का समाधान निकालना होगा। सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है लेकिन यहां की समस्याओं का भी समाधान हमे करना होगा। इस सरकार के पास जम्मू कश्मीर को लेकर कोई स्थायी रणनीति नहीं है।

किसानों की हालत खराब

मनमोहन सिंह ने कहा कि पीएम ने किसानों की आय को दोगुना करने का वादा किया था लेकिन सरकार के अब तक के कार्यकाल के दौरान किसानों की हालत और खराब हो गई है, कृषि विकास की भी रफ्तार थम गई है। उन्होंने कहा कि किसानों की आय को दोगुना करने के लिए देश की जीडीपी 12 फीसदी होनी चाहिए, जोकि हाल फिलहाल तो संभव नहीं दिख रही है। ऐसे में मोदी सरकार के यह वायदे सिर्फ जुमले साबित हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.