हड़ताली लेखपालों पर गिरी गाज

Newsjunction24/bareilly:

बरेली मंडल के 95 लेखपाल निलंबित, 592 को सेवा से बर्खास्तगी का नोटिस

         जिलेवार हुई कार्रवाई

         जिला            निलंबित      नोटिस

  • बरेली             24               25
  • शाहजहांपुर    24               320
  • पीलीभीत       22               154
  • बदायूं             25               93

करीब एक माह से हड़ताल पर गए लेखपालों के प्रति शासन ने सख्त रवैया अपनाना शुरू कर दिया है। हड़ताल कर रहे लेखपालों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही चेता दिया था कि लेखपाल काम पर लौटें वरना कार्रवाई के लिए तैयार रहें। अब हालात संभलते न देख प्रदेश सरकार ने कार्रवाई शुरू कर दी है। बिजनौर में 12 व बांदा में 17 लेखपाल निलंबित कर दिए गए। वहीं गुरूवार को बरेली मंडल में प्रदेश सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 95 लेखपालों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। कुल 592 लेखपालों को सेवा से बर्खास्तगी का नोटिस भी जारी किया गया है।

कार्रवाई से लेखपालों में मची खलबली

उधर, कार्रवाई के बाद से लेखपालों में खलबली मच गई है। कार्रवाई की सुगबुगाहट सुन बरेली में 6 और पीलीभीत में 4 लेखपालों ने काम पर वापस लौटने की घोषणा कर दी है। मची तो बरेली में छह और पीलीभीत में चार ने काम पर वापस लौटने की घोषणा कर दी।

प्रभावित हुआ काम तो लेना पड़ा एक्शन

लेखपालों के हड़ताल पर जाने से तहसील स्तर पर काफी काम प्रभावित हो रहे थे। प्रशासन ने अमीनों व लेखपालों को सत्यापन कार्य व प्रमाण पत्रों संबंधी कामकाज भी सौंप दिया है। छात्र-छात्राओं के प्रमाण पत्र भी सत्यापित नहीं हो पा रहे थे। इससे अभिभावकों की शिकायत भी तहसीलों में पहुंच रही थी। बता दें कि लेखपाल आठ सू़त्रीय मांगों को लेकर करीब एक माह से आंदोलन कर रहे हैं। पहले काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन करते रहे। इसके बाद पूर्णतः कार्य बहिष्कार की घोषणा कर दी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.