महंगाई की मार : आंचल दूध और इसके उत्पाद हुए महंगे, अब इतनी ढीली करनी होगी जेब

लालकुआं । नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ ने अपने आंचल ब्रांड दूध और दुग्ध उत्पाद के दाम बढ़ा दिए हैं। दूध के दाम दो से आठ रुपये प्रति लीटर और घी के दाम 30 रुपये प्रति लीटर तक बढ़ाए गए हैं। ये दाम नौ अप्रैल यानी शुक्रवार से लागू हो गए।

नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड लालकुआं के अध्यक्ष मुकेश बोरा ने बताया कि ईंधन की दरों में वृद्धि और पैकिंग सामग्री महंगी होने के कारण संस्था को दुग्ध एवं दुग्ध उत्पादों की दरों में वृद्धि करनी पड़ी है। उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रकार के दूध के दामों में दो रूपये से लेकर आठ रूपये प्रति लीटर तक की बढ़ोतरी की गई है। सर्वाधिक बिकने वाला उत्पाद स्टैन्डर्ड दूध का दाम दो रूपये प्रति लीटर बढ़ाया गया है। वहीं पनीर के दाम में प्रति किलोग्राम 25 रूपये की बढ़ोतरी की गई है।

यह भी पढ़ें : अगले महीने से आप पर बढ़ेगा एक और बोझ, बचना है तो अभी करिए ये काम

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में भी रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच रहे पेट्रोल के दाम, जिलेवार यह हैं रेट

स्टैंडर्ड दूध ₹45 प्रति लीटर से बढ़कर अब ₹47 प्रति लीटर हो गया है। जबकि, पनीर ₹325 किलो से बढ़कर अब ₹350 प्रति किलो हो गया है। वहीं, आंचल घी ₹470 से बढ़कर ₹500 लीटर और मक्खन ₹210 से बढ़कर ₹220 प्रति किलो हो गया है। बाल मिठाई ₹350 प्रति किलो से बढ़कर ₹380 प्रति किलो हो गई है। इसके अलावा अन्य उत्पादनों में भी 5 से 10% की वृद्धि की गई है।

अलग-अलग वजन के दही के पैकेटों की कीमत एक से तीस रूपये तक बढाए गए है। जबकि 400 मिली मसाला छांछ और 15 ग्राम मक्खन की टिकिया की दरों को अपरिवर्तित रखा गया है। इसके अलावा एक किलोग्राम क्रीम के लिए भी उपभोक्ताओं को अब 30 रूपये अधिक खर्च करने होंगे।

उत्पादकों के दूध का दाम सिर्फ एक रुपया बढ़ाया
दुग्ध संघ ने उत्पादकों से खरीदे जाने वाले दूध में सिर्फ एक रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है। नैनीताल दुग्ध सहकारी संघ लालकुआं से लगभग 26 हजार दुग्ध उत्पादक जुडे हैं। इन सदस्यों को राहत देने के उद्देश्य से दूध खरीद की दरों में भी एक रूपया प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*