अब कांग्रेस के फायरब्रांड नेता मिलिंद देवड़ा के बदले सुर, ट्वीटर के बयान ने कांग्रेस में मचाई हलचल। जानिए क्या कह दिया ऐसा

 

नई दिल्ली : कांग्रेस के दिग्गज नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद के भाजपा में शामिल होने की कांग्रेस में अंदरखाने हलचल अभी थमी नहीं थी कि अब कांग्रेस के तेज-तर्रार नेता मिलिंद देवड़ा के ट्वीटर ने पार्टी में भूचाल ला दिया है। देवड़ा ने गुजरात सरकार की जमकर तारीफ करके पार्टी के रणनीतिकारों को चिंता में डाल दिया है। उन्होंने यह भी कहा है कि गुजरात सरकार के कार्य अनुकरणीय हैं। विदित रहे कि कांग्रेस में माधवराव सिंधिया, जितिन प्रसाद, सचिन पायलट और मिलिंद देवड़ा ऐसे युवा चेहरे रहे जो कांग्रेस का फायरब्रांड ग्रुप कहलाता था। जिनके बयान ही एकाएक चर्चा के रहते थे। अब सिंधिया और जितिन प्रसाद जैसे दिग्गज भाजपा में प्रवेश कर चुके हैं तो सचिन पायलट लंबे समय से साइडलाइन चल रहे हैं। ऐसे में चौथे तेज-तर्रार नेता देवड़ा के बयान ने कांग्रेस में हलचल मचा दी है।

कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर सीएमओ गुजरात का एक ट्वीट शेयर करते हुए गुजरात सरकार के काम को अच्‍छा बताया है। देवड़ा ने लिखा है- दूसरे राज्‍यों के लिए यह अनुकरण करने योग्‍य एक स्वागत वाला कदम है। उन्‍होंने कहा है कि यदि हम भारत के आतिथ्य क्षेत्र में और नौकरियों के नुकसान को रोकना चाहते हैं तो सभी राज्यों को तत्काल आगे आना चाहिए।

मिलिंद देवड़ा ने अपने पूर्व सहयोगी जितिन प्रसाद के भाजपा में शामिल होने पर भी तल्‍ख बयान दिया है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा- मेरा मानना है कि कांग्रेस को अपनी पुरानी स्थिति को पाने की कोशिश करना चाहिए। कांग्रेस देश की बड़ी पार्टी है और इस लिहाज से वह यह कर सकती है और उसे ऐसा करना भी चाहिए। देवड़ा ने कहा है कि हमारे पास अब भी ऐसे नेता हैं जिन्हें यदि ताकत दी जाए और बेहतरीन ढंग से इस्तेमाल किया जाए तो वे बेहतरीन नतीजे दे सकते हैं।

सनद रहे कि एक वक्‍त था जब ज्योतिरादित्य सिंधिया मिलिंद देवड़ा, जितिन प्रसाद और सचिन पायलट कांग्रेस की युवा ब्रिगेड के दिग्‍गज नेता माने जाते थे। ये नेता पहले भी कांग्रेस की सरकारों में रहे। सिंधिया काफी पहले भाजपा में शामिल हुए थे। अब जितिन प्रसाद ने भी भाजपा का दामन थाम लिया है। यही नहीं और देवड़ा पार्टी में अक्‍सर सुधार की मांग उठाते रहे हैं। अब मिलिंद देवड़ा के ताजा ट्वीट से सियासी अटकलें एकबार फि‍र तेज हो गई हैं…।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*