spot_img

उत्तराखंड के लाल ने पहली बार में ही पाया दुनिया का सबसे ऊंचा मुकाम, दीजिए बधाई

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून। देहरादून के रहने वाले एयरफोर्स विंग कमांडर विक्रांत उनियाल (Air Force Wing Commander Vikrant Uniyal) ने पहली बार में ही एवरेस्ट (Mount Everest) फतह कर लिया है। 21 मई को उन्होंने यह कामयाबी हासिल की। विक्रांत उनियाल ने एवरेस्ट पर पहुंचकर वहां राष्ट्रध्वज के साथ ही भारतीय वायुसेना का ध्वज फहराया और राष्ट्रगान गाकर अपनी कामयाबी का जश्न मनाया।

हिमालय की सबसे ऊंची चोटी एवरेस्ट पर विजय पताका फहराने वाले विक्रांत (Air Force Wing Commander Vikrant Uniyal) मूल रूप से टिहरी के रहने वाले हैं आैर वर्तमान में परिवार के साथ देहरादून में रहते हैं। उनका मानना है कि इस ऊंचाई को छूने के लिए कुछ पाने का जुनून, माता उमा उनियाल, पिता एके उनियाल, भाई विंग कमांडर प्रशांत के साथ अपनों का आशीर्वाद और किस्मत का भरपूर साथ मिला, क्योंकि जब एवरेस्ट पर पहुंचा, उसके ठीक 30 मिनट बाद वहां का मौसम बेहद खराब हो गया। अगर चढ़ते समय मौसम खराब हुआ होता, तो पहली बार में एवरेस्ट छूने का सपना पूरा नहीं हो पाता। 1997 में एनडीए और वर्ष 2000 में कमीशन पाने वाले विक्रांत ने कहा कि वह खुशकिस्मत हैं कि किस्मत ने उनका पूरा साथ दिया।

ऐसे की तैयारी

विक्रांत ने बताया कि जब वह सातवीं कक्षा में थे, तभी नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ माउंटेनिंग से उन्होंने पर्वतारोहण का कोर्स किया था। एयरफोर्स में जाने के बाद 2018 में सियाचिन में आर्मी माउंटेनरिंग इंस्टीट्यूट (एएमआई) से प्रशिक्षण लिया। लद्दाख की जंस्कार घाटी में सर्दियों में बेहद दुर्गम चादर ट्रैक किया। इसके बाद ही एवरेस्ट पर चढ़ने की इच्छा और प्रबल हो गई। दिसंबर 2021 में अरुणांचल में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ माउंटेनरिंग एंड एलाइड स्पोर्ट्स (निमास) से प्रशिक्षण के बाद तय कर लिया था कि अबकी एवरेस्ट को छूना है। 15 अप्रैल को एक शेरपा और कुछ पोर्टर के साथ हिमालय के बेस कैंप से चढ़ाई शुरू की और 36वें दिन एवरेस्ट की चोटी पर था।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!