20.5 C
New York
Saturday, October 23, 2021

Buy now

बालिका बधू की ‘दादी सा’ का निधन, अल्मोड़ा व नैनीताल से था गहरा रिश्ता

हल्द्वानी। टेलीविजन की अदाकारा सुरेखा सीकरी का 75 साल की उम्र में निधन हो गया है। कलर्स टीवी के सुपरहिट शो बालिका बधू की दादी सा सुरेखा के मैनेजर ने बताया कि उनका निधन हार्ट अटैक से हुआ है। हालांकि वह लंबे समय से बीमार चल रही थीं। साल 2020 में उन्हें ब्रेन स्ट्रोक भी हुआ था। सुरेखा सीकरी को तीन बार नेशनल अवॉर्ड भी मिल चुका है। इन्होंने बधाई हो और बालिका वधु जैसी कई हिट और पॉपुलर फिल्मों, सीरियल में यादगार रोल निभाए हैं।

यूपी में हुआ जन्म, अल्मोड़ा-नैनीताल में बीता बचपन

सुरेखा सीकरी का जन्म उत्तर प्रदेश में हुआ और बचपन उत्तराखंड के अल्मोड़ा व नैनीताल में बीता। उनके पिता एयरफोर्स में थे और मां टीचर थीं। 1971 में सुरेखा ने एनएसडी से पासआउट हुईं अौर फिर मुंबई चली गई। सुरेखा ने अपने करियर की शुरुआत 1978 में पॉलिटिकल ड्रामा फिल्म ‘किस्सा कुर्सी का’ से की थी। उनको तीन बार बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड मिला। उन्हें 1989 में संगीत नाट्य अकादमी का अवॉर्ड भी मिला था। सुरेखा को कलर्स के शो बालिका बधु में कल्याणी देवी के किरदार के लिए भी हमेशा याद किया जाएगा।

कोरोना में आर्थिक तंगी का करना पड़ा सामना

कोरोना के दौर में सुरेखा को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। उनके पास कई महीनों तक काम भी नहीं था, पहले तो कोरोना के लॉकडाउन की वजह से शूटिंग रोकनी पड़ी और जब शूटिंग शुरू भी हुई तो बुजुर्ग कलाकारों को शूटिंग से दूर रहने की गाइडलाइन जारी की गई, जिसकी वजह से सुरेखा को आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ा था।

परिवार में पति और बेटा

सुरेखा की शादी हेमंत रेज से हुई थी, जिससे उनका एक बेटा राहुल सिकरी हैं। राहुल सिकरी मुंबई में हैं और आर्टिस्ट हैं। अभिनेता नसीरुद्दीन शाह रिश्ते में सुरेखा सिकरी के बहनोई लगते हैं। सुरेखा की बहन मनारा सिकरी ने नसीरुद्दीन की पहली शादी हुई थीं।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles