spot_img

Big breaking : सांसद का जाति प्रमाण पत्र निकला फर्जी, हाई कोर्ट ने रद कर किया जब्त। पढ़िये इस तरह सामने आया बड़ा खुलासा, जा सकती है सदस्यता

 

मुंबई : महाराष्ट्र की अमरावती (amravati) लोकसभा सीट से सांसद नवनीत राणा का जाति प्रमाणपत्र फर्जी निकला है। बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर बेंच ने यह बड़ा फैसला सुनाते हुए सांसद के फर्जी जाति प्रमाण पत्र को रद करते हुए जब्त कर लिया है। इधर, नवनीत कौर राणा की मुश्किलें बढ़ गई हैं। जाति प्रमाण पत्र मामले में नवनीत कौर राणा की संसद सदस्यता भी जा सकती है।

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक शिवसेना के पूर्व सांसद आनंद अडसूल की याचिका पर बॉम्‍बे हाइकोर्ट ने ये फैसला सुनाया है। इस याचिका में नवनीत राणा के जाति प्रमाण पत्र को अवैध बताया गया था। दरअसल पिछले चुनाव में अमरावती सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित थी इसलिए नवनीत राणा ने फर्जी एससी प्रमाणपत्र बनवा अपने आपको अनुसूचित जाति का दिखा दिया।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने नवनीत राणा का जाति प्रमाण पत्र रद करते हुए उन पर 2 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है। सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने नवनीत राणा को 6 हफ्ते के अंदर अपने सभी प्रमाण पत्र जमा करने का आदेश दिया है। बता दें कि अमरावती संसदीय सीट आरक्षित निर्वाचन क्षेत्र था और यहीं से नवनीत कौर राणा ने चुनाव लड़ा था और विजयी हुई थी।

गौरतलब है कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने नवनीत राणा का जाति प्रमाण पत्र रद करते हुए उन पर 2 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है। सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने नवनीत राणा को 6 हफ्ते के अंदर अपने सभी प्रमाण पत्र जमा करने का आदेश दिया है। बता दें कि अमरावती संसदीय सीट आरक्षित निर्वाचन क्षेत्र था और यहीं से नवनीत कौर राणा ने चुनाव लड़ा था और विजयी हुई थी। लेकिन अब कोर्ट के फैसले के बाद उनकी सदस्यता जाने का भी खतरा नजर आ रहा है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!