Big news in uttrakhand : कैंचीधाम में इस बार स्थापना दिवस पर नहीं लगेगा मेला, जानिए ट्रस्ट ने क्या लिया फैसला। घर पर करना होगा यह पाठ

 

नैनीताल : भवाली में स्थित कैंची धाम मंदिर पर होने वाले वार्षिक स्थापना दिवस समारोह पर लगने वाले मेले का आयोजन नहीं होगा। यह निर्णय कैंची धाम ट्रस्ट ने लिया है। ट्रस्ट के संचालकों ने घरों पर ही सुरक्षित रहते हुए संकटमोचक हनुमानजी का पाठ करने को कहा है, इससे संकटकाल से निकलने की राह प्रशस्त होगी।

कोरोना संक्रमण की रफ्तार उत्तराखंड में तेजी के साथ बढ़ रही है। केसों की संख्या को देखते हुए हालत यह हो गई है कि आज उत्तराखंड सर्वाधिक संक्रमित राज्यों के बराबर आकर खड़ा हो गया है। तमाम आदेश निर्देशों और सहयोग के बाद भी उत्तराखंड में बढ़ते कोरोना संक्रमित केशों के कारण राज्य की स्थिति देशभर में खराब हुई है। वही प्रशासनिक व्यवस्था के दावों में किरकिरी भी सामने आई है। 15 जून को लगने वाले कैंची धाम पर मेले में देश भर से ही नहीं बल्कि विदेशों से भी श्रद्धालु बड़ी संख्या में बाबा का प्रसाद ग्रहण करने आते हैं। सुबह से रात तक श्रद्धालुओं की लंबी लाइन लगी रहती है। कैंची धाम बाबा ट्रस्ट के संचालकों ने निर्णय लिया है कोरोना काल मैं बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं से जहां संक्रमण का खतरा है तो उन श्रद्धालुओं को भी उत्तराखंड आने पर दिक्कत हो सकती है। लिहाजा मेले को स्थगित रखा जाए ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने श्रद्धालुओं से अनुरोध किया है वह 15 जून को अपने अपने घरों पर ही संकट मोचन हनुमान बाबा के पाठ का आयोजन करें, इससे महामारी से निपटने में भक्तों को शक्ति मिलेगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*