बंद कमरे में फंदे से लटके मिले भाजपा सांसद शर्मा, पार्टी नेता भी हैरान

 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के सांसद अपने आवाज पर फांसी के फंदे पर लटके मिले। कमरा अंदर से बंद था, यह देख उनके कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। एक कर्मचारी ने फोन कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच जांच शुरू कर दी है। भारतीय जनता पार्टी ने अपने सांसद की संदिग्ध मौत को देखते हुए संसदीय दल की होने वाली बैठक को भी टाल दिया है। मृत मिले सांसद काफी लोकप्रिय थे और उन्होंने अपने क्षेत्र में दिग्गजों को हराकर सांसद बने थे।
हिमाचल प्रदेश के सांसद रामस्वरूप शर्मा भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ-साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के भी प्रचारक रहे थे। दिल्ली में गोमती अपार्टमेंट में उनका आवास है। आवास पर बुधवार सुबह सांसद का कमरा जब नहीं खुला तो कर्मचारियों ने उन्हें आवाज लगाई। अंदर से कोई आवाज नहीं आई तो रेस्पॉन्स न मिलने पर खिड़की से झांक कर देखा तो कर्मचारियों के पैरों की जमीन खिसक गई। सांसद रामस्वरूप शर्मा फांसी के फंदे पर लटके हुए थे। एक कर्मचारी ने तत्काल पुलिस को फोन पर सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच कमरा खोल रामस्वरूप शर्मा के शव को फंदे से उतारा और जांच शुरू कर दी। कमरे से कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला है। इधर, सांसद की मौत की सूचना मिलते ही भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता भी हैरान रह गए। सरल और मृदुभाषी स्वभाव के रामस्वरूप शर्मा की आकस्मिक मौत पार्टी के नेताओं के भी गले नहीं उतर पा रही है। हालांकि पुलिस जांच कर रही है, कर्मचारियों से भी पूछताछ की जा रही है पर अभी कोई खास वजह पता नहीं चल सकी है। ध्यान रहे कि सांसद रामस्वरूप शर्मा 2019 में पूर्व केंद्रीय मंत्री कांग्रेस के अध्यक्ष सुखराम के पोते को हराकर लोकसभा में पहुंचे थे, इससे पहले 2014 में उन्होंने हिमाचल प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्नी को बड़े अंतर से हराया था। उनके निधन से पार्टी में शोक की लहर है।
इधर आज होने वाली संसदीय दल की मीटिंग को भी भारतीय जनता पार्टी ने आगे बढ़ा दिया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*