spot_img

covid को हल्के में न लें, पिथौरागढ़ में संक्रमित बच्चे की मौत

 

पिथौरागढ़ : कोरोना (covid) को हल्के में लेने की गलती कतई न करें। बार-बार जारी हो रही एडवाइजरी सटीक साबित होती दिख रही है।

उत्तराखंड में पिथौरागढ़ जिले में कोरोना से पांच माह के मासूम की मौत हो गई है। तीन और अन्य बच्चे भी कोरोना  (covid) संक्रमित पाए गए हैं। मौत से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है और सावधान रहने के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं।

पिथौरागढ़ में बच्चों में कोरोना (covid) संक्रमण तेजी से फैल रहा है। रविवार को नेपाल निवासी और जाखपुरान पिथौरागढ़ पांच-पांच माह के दो बच्चों का स्वास्थ्य खराब हो गया। परिजन उन्हें जिला चिकित्सालय ले गए। एंटीजन टेस्ट में दोनों में कोरोना  (covid)  संक्रमण की पुष्टि हुई। नेपाली बच्चे को चिकित्सालय में आइसोलेट किया गया, लेकिन हालत अधिक बिगडऩे पर उसे देर रात हायर सेंटर रेफर किया जा रहा था। इस बीच रात करीब दो बजे चिकित्सालय में ही बच्चे ने दम तोड़ दिया। वहीं, जाखपुरान निवासी बच्चे को होम आइसोलेट किया गया है। इससे पूर्व भी शनिवार को ऐंचोली निवासी पांच वर्षीय बालक व लिंठ्यूड़ा निवासी पांच माह के मासूम में भी संक्रमण पाया गया है। उन्हें होम आइसोलेट किया गया है।

कोरोना.(covid) संक्रमित पाए गए बच्चों के माता-पिता निगेटिव मिले हैं। पिथौरागढ़ जनपद में कोरोना से अब तक 162 लोगों की मौत हो चुकी है। मगर पांच माह के मासूम की मौत की यह पहली घटना है। जनपद में वर्तमान में कोरोना के सात एक्टिव केस हैं।

नैनीताल में बच्चे समेत एक ही परिवार के तीन संक्रमित

चार्टन लाज नैनीताल निवासी युवक 29 अक्टूबर को कोरोना संक्रमित पाया गया था। जिसके बाद उसे होम आइसोलेट कर दिया गया था। सोमवार को युवक की पत्नी और दोनों बच्चे भी कोविड जांच कराने बीडी पांडे अस्पताल पहुंचे। रैपिड एंटीजन टेस्ट में पत्नी और चार वर्षीय बेटा भी संक्रमित पाया गया। जबकि एक वर्षीय बेटे की रिपोर्ट नेगेटिव आई। अस्पताल के पीएमएस डा. केएस धामी ने बताया कि परिवार को होम आइसोलेट कर दिया गया है। संपर्क में आए लोगों और पड़ोसियों की कोविड जांच को मंगलवार को क्षेत्र में कैंप लगाया जाएगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles