कोविडकाल में महिला प्रधान को महंगा पड़ा शादी की सिल्वर जुबली मनाना, प्रशासन ने लिया यह संज्ञान

 

राजू अनेजा, लालकुआं।

मोटाहल्दू क्षेत्र में  महिला  ग्राम प्रधान के घर में गाजे बाजे के साथ मनाई गई शादी की सालगिरह पर अब कानूनी साया बैठ गया है। जश्न के दौरान कोविड नियमों के उलंघन का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इस पर एसडीएम ऋचा सिंह ने संज्ञान लेते हुए कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक को पूरे मामले पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

बताते चलें कि कई दिनों से सोशल मीडिया में वीडियो वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में ग्राम प्रधान दर्जनभर महिलाओं के साथ डीजे में डांस कर रही है। इस दौरान उन्होंने मास्क भी नहीं पहना है। समारोह में दर्जनों की संख्या में लोग मौजूद हैं। कर्फ्यू के दौरान आयोजित उक्त कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना होने का आरोप लगाया जा रहा है। एक अन्य वीडियो में प्रधान पति उक्त कार्यक्रम के दौरान ही महिला प्रधान के साथ खड़े होकर बंदूक से फायर करते नजर आ रहे हैं।

वीडियो हमारे पास है, जांच चल रही है

उक्त मामले में लालकुआं कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार का कहना है कि सोशल मीडिया में वायरल हो रहे वीडियो पुलिस के पास है। जिसकी गहनता से जांच की जा रही है। आरोप सही पाए जाने पर मामले में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

चिड़ियामार बंदूक चलाई थी हमने

वहीं, आरोपी महिला प्रधान का कहना है कि उनके परिवार में शादी की 25वीं सालगिरह का कार्यक्रम था। जिसमें केवल उनके परिवार के ही लोग शामिल थे। घर के अंदर मास्क लगाने का कोई औचित्य नहीं बनता है। साथ ही प्रधान पति का कहना है कि बंदूक से फायर करने वाली बात बेबुनियाद है। उन्होंने जानवरों को भगाने वाली चिड़िया मार बंदूक चलाई थी।

एसडीएम बोलीं, मामला बेहद गंभीर

उपजिलाधिकारी ऋचा सिंह का कहना है कि मामला बेहद गंभीर है और सीधे-सीधे कोविड नियमों का उल्लंघन और कर्फ्यू के दौरान शक्ति प्रदर्शन करना है। उन्होंने कहा कि यदि जनप्रतिनिधि ही इस तरह का कार्य करेंगे तो आम जनता से कोविड नियमों का पालन करने की अपेक्षा कैसे की जा सकती है। उन्होंने कोतवाल लालकुआं को मामले में कार्रवाई के लिए निर्देशित किया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*