मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कार्यकर्ताओं को सौंपा सरकारी दायित्व, दिया राज्यमंत्री का दर्जा

 

देहरादून। विधानसभा चुनाव के लिए एक साल शेष बचा है। ऐसे में अब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कार्यकर्ताओं को सम्मान देने में जुटे हैं। शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने बहुप्रतीक्षित एक लिस्ट और घोषित कर दी, जिसमें तमाम कार्यकर्ताओं को दर्जा मंत्री का दायित्व सौंपा है। उनको विभिन्न निगमों और परिषदों का अध्यक्ष उपाध्यक्ष घोषित किया है। मुख्यमंत्री के इस कदम को चुनावी मिशन के तहत देखा जा रहा है।

इन कार्यकर्ताओं को सौंपा सरकारी दायित्व :–
चिन्यालीसौड़ के रामसूरत नौटियाल उपाध्यक्ष, राज्य स्तर मत्स्य पालक विकास अभिकरण।
रानीखेत के कैलाश पंत अध्यक्ष उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन सलाहकार समिति।
चकराता के प्रताप सिंह रावत को उपाध्यक्ष वन विकास निगम। ऊधमसिंह नगत जिले के सितारगंज निवासी कमल जिंदल उपाध्यक्ष, उत्तराखंड वन व पर्यावरण सलाहकार समिति।
रुड़की के संजय सिंह ठाकुर उपाध्यक्ष राज्य वन जीव सलाहकार बोर्ड।
जागेश्वर के मोहन सिंह मेहरा अध्यक्ष राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य सलाहकार एवं अनुश्रवण परिषद।
रुद्रप्रयाग के डॉ आशुतोष कमेठी उपाध्यक्ष जड़ी-बूटी शोध विकास संस्थान।
देवीपुरा मालधन चौड़ रामनगर के हरीश दफौटी अध्यक्ष हरीराम टम्टा परंपरागत शिल्प उन्नयन संस्थान। हरिद्वार निवासी विमल कुमार, सलाहकार माननीय मुख्यमंत्री लघु उद्योग।
श्रीमती बेबी अस्वाल, पूर्व ब्लाक प्रमुख टिहरी, अध्यक्ष:- राज्य महिला उद्यमिता परिषद।
श्रीमती सुषमा रावत, पौड़ी, अध्यक्ष:- राज्य स्तरीय महिला सतर्कता समिति। अरुण कुमार सूद, डोईवाला, अध्यक्ष:- राज्य स्तरीय खेल परिषद।
मुकेश कुमार महुआडाबरा जसपुर, अध्यक्ष:- अनुसूचित जाति आयोग। पंडित सुभाष जोशी, देहरादून, अध्यक्ष:- वरिष्ठ नागरिक कल्याण परिषद।
दिनेश मेहरा,सल्ट अल्मोड़ा, उपाध्यक्ष:- राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सलाहकार समिति। अनिल गोयल, देहरादून, उपाध्यक्ष:-उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण।
राजेंद्र जुयाल, प्रताप नगर टिहरी, उपाध्यक्ष:- उत्तराखंड कृषक मित्र परिषद

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*