spot_img

प्रदेश में उच्च शिक्षा की बेहतरी के लिए सीएम धामी का बड़ा एलान, कर डाली यह घोषणा

देहरादून। प्रदेश में उच्च शिक्षा की बेहतरी के लिए आठ नए महाविद्यालय खोले जाएंगे और सात महाविद्यालयों का स्नातक से स्नातकोत्तर में बदला जाएगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसकी घोषणा की है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रदेश में आठ नए महाविद्यालयों की स्थापना की जाएगी। यह देहरादून शहर, हरिद्वार शहर (भूपतवाला), हल्द्वानी शहर में, गदरपुर ऊधमसिंह नगर, दन्या अल्मोड़ा, कल्जीखाल पौड़ी, खिर्सु पौड़ी, देवाल चमोली में बनेंगे।

ये डिग्री कॉलेज बनेंगे पीजी कॉलेज

इसके अलावा राज्य के सात महाविद्यालयों का स्नातक से स्नातकोत्तर में उच्चीकरण किया जाएगा। इनमें राजकीय महाविद्यालय, मुनस्यारी (पिथौरागढ़), राजकीय महाविद्यालय, गैरसैंण (चमोली), राजकीय महाविद्यालय, कपकोट (बागेश्वर), राजकीय महाविद्यालय सोमेश्वर, राजकीय महाविद्यालय, हल्दूचौड़ (नैनीताल), राजकीय महाविद्यालय, लक्सर (हरिद्वार), राजकीय महाविद्यालय, थलीसैंण (पौड़ी) शामिल हैं।

राजकीय महाविद्यालयों में अतिरिक्त पद सृजित होंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजकीय महाविद्यालयों में आवश्यकतानुसार स्नातक स्तर पर 50 एवं स्नातकोत्तर स्तर पर 10 अतिरिक्त शैक्षणिक पदों का सृजन किया जाएगा। राज्य के समस्त शासकीय महाविद्यालयों में कम से कम एक वीडियो कॉन्फ्रेसिंग एवं अन्य आवश्यक आधुनिक तकनीकी सुविधायुक्त लेक्चर हाल स्थापित किए जाएंगे। पाठ्यक्रमों को नई शिक्षा नीति के अनुरूप करने के लिए उच्च स्तरीय समिति गठित होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति के तहत शासकीय विश्वविद्यालयों में अंत विषय कोर्स प्रारंभ करने एवं वर्तमान पाठ्यक्रमों में बदलाव के लिए राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर के सुविख्यात शिक्षाविद की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय समिति गठित की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मालदेवता (रायपुर) में स्नातकोत्तर स्तर पर विज्ञान संकाय एवं गृह विज्ञान की कक्षाएं भी प्रारंभ की जाएगी।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!