सोनिया गांधी के सलाहकार अहमद पटेल की कोरोना से मौत, इंदिरा बोलीं पटेल थे पार्टी के संकटमोचक

दिल्ली । कोरोना का संक्रमण भयावह होता जा रहा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व अध्यक्ष सोनिया गांधी के सलाहकार अहमद पटेल का देर रात कोरोना से निधन हो गया। वह लंबे समय से अस्पताल में भर्ती थे। पटेल के निधन को कांग्रेस की बड़ी हानि माना जा रहा है।
गुजरात के भरूच के रहने वाले अहमद पटेल अक्टूबर में कोरोना संक्रमित हुए थे। उनका वेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा था। बीती रात करीब साढ़े 3 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। बताया जाता है कि पिछले एक हफ्ते से उनकी हालत में सुधार हो रहा था, लेकिन अचानक ही उनके ऑर्गन्स ने काम करना बंद कर दिया। पटेल के मौत की खबर उनके बेटे ट्वीट के जरिये दी।
इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करके शोक जताया है। आपको बता दें अहमद पटेल 8 बार के सांसद है और राजीव गांधी के निधन के बाद उनकी छवि कांग्रेस पार्टी के चाणक्य के तौर पर बनी। वह सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार भी थे। वर्ष 1977 से 1989 के बीच पटेल को 3 बार लोक सभा के लिए चुना गया। उनकी इच्छा थी कि वह अपनी आखिरी सांस अपने गृह जनपद में लें, लेकिन उनकी यह आखिरी इच्छा पूरी नही हो सकी।
नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हिर्देश ने पटेल के निधन को दुःखद बताया और कहा कि वह पार्टी के लिए संकटमोचक थे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*