Corona in kumbh : संतों ने की कुम्भ समापन की घोषणा। मुख्यमंत्री आज करने जा रहे हैं महत्वपूर्ण बैठक

 

हरिद्वार : कुंभ के चलते हरिद्वार कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है। एक महामंडलेश्वर की मौत 52 संतों का कोरोना पॉजिटिव आने से घबराए श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी और आनंद अखाड़े ने कुंभ समापन करने की घोषणा कर दी है। इधर, कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर मुख्यमंत्री भी देहरादून में शुक्रवार को आज जरूरी बैठक करने जा रहे हैं।
हरिद्वार में कुंभ के चलते कोरोना का प्रकोप जबरदस्त होता जा रहा है 1 दिन में 600 केस सामने आने से प्रशासन भी चिंता में पड़ गया है। इधर, कुंभ मेले में ही संतो में जबरदस्त कोरोना फैल चुका है। गुरुवार को महामंडलेश्वर कपिल देवदास जी की मौत और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी के कोरोना पॉजिटिव होने के से साधु संत टेंशन में आ गए हैं। अभी तक कुंभ मेले में करीब 52 से अधिक साधु-संत कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। यह संख्या इसलिए कम है क्योंकि बीच में साधु-संतों ने 14 तारीख से पहले जांच ना कराने की बात कही थी। संतों में नाराजगी ना हो इसलिए प्रशासन भी कुछ ढीला हो गया था। मगर अब तो साधु संत भी जांच के लिए आगे आ रहे हैं, कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए गुरुवार की शाम श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी ने स्पष्ट कर दिया कि इस समय हरिद्वार की स्थिति अच्छी नहीं है। कोरोना के तेजी से बढ़ते केसों को देखते हुए आम आदमी की जीवन की रक्षा करना बहुत जरूरी है। लिहाजा अखाड़ा निरंजनी 17 अप्रैल को मेले के समापन कर देगी। अखाड़े के महंत रविंद्र पुरी ने कहा सभी संत अखाड़ों में वापस चले जाएंगे। जो कुछ संत रह भी जाएंगे वह प्रतीकात्मक स्नान कर लौट जाएंगे। संतो ने कहा नरेंद्र गिरी एम्स में भर्ती हैं इसके अलावा कई और संतों की भी हालत खराब है, संत समाज सरकार से उनके उचित उपचार की मांग करता है।
इधर, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्री महंत हरीगिरी ने कहा है कि जिन्होंने कुंभ की समाप्ति की घोषणा की है, वह उसका स्वागत करते हैं। लेकिन यह अखाड़ा परिषद का निर्णय नहीं है, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते सभी से नियमों के पालन की अपील करते हैं। मगर कुंभ समय से ही समाप्त होगा, रही बात सतर्कता की तो वे लोग प्रतीकात्मक स्नान करेंगे।

मुख्यमंत्री आज करेंगे बैठक

इधर प्रदेश में बढ़ते कोरोना के संक्रमण और कुंभ के मद्देनजर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत शुक्रवार को उच्च स्तरीय मीटिंग करने जा रहे हैं जिसमें किसी बड़े निर्णय की घोषणा हो सकती है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*