spot_img

रूस में राष्ट्रपति ने अपनी बेटी के ही लगवा दिया कोरोना का पहला टीका, फिर ऐसा आया रिजल्ट

माॅस्को : कोरोना वैक्सीन को लेकर दवा बनाने में जुटे विभिन्न देशों के बीच रूस ने अपने यहां कोरोना को खत्म करने वाली दवा का सफल परीक्षण करने का दावा कर दिया है। रूस का कहना है कि उसने कोरोना की पहली वैक्सीन तैयार कर ली है और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटी को वैक्सीन का पहला टीका लगाया गया। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एलान किया कि ये दुनिया की पहली सफल वैक्सीन है और रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसे मंजूरी दे दी है।
रूस की समाचार एजेंसी एएफपी ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। इस वैक्सीन को मॉस्को के गामेल्या इंस्टीट्यूट ने तैयार किया है। मंगलवार को रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना की  वैक्सीन को सफल करार दिया और इसी के साथ व्लादिमीर पुतिन ने दावा किया कि रूस में जल्द ही इस वैक्सीन का प्रोडक्शन शुरू किया जाएगा। बड़ी संख्या में वैक्सीन की डोज बनाई जाएगी।व्लादिमीर पुतिन ने बताया था कि उनकी बेटी को कोरोना संक्रमण हुआ और उसे ये नई वैक्सीन दी गई है। वैक्सीन देने के कुछ देर बाद उसका तापमान बढ़ा लेकिन अब वो पहले से ठीक और स्वस्थ है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!