भ्रष्टाचार का घुन : लालकुआं में तीन माह में ही उखड़ गई 11 लाख रुपए से बनी सड़क, लोग गुस्साए तो अफसरों ने यह किया वादा

 

राजू अनेजा, लालकुआं।

तमाम शक्ति के बाबजूद लालकुआं में भ्रस्टाचार का घुन बढ़ता ही जा रहा है। गुणवत्ता का आलम यह है कि लाखों रुपए की लागत से बनाई गई सड़क मात्र तीन माह में ही उखड़ गई । इधर, घटिया सामग्री से सड़क का निर्माण कराए जाने से गुस्साए लोगों की शिकायत के बाद जब ईओ व जेई ने सड़क का निरीक्षण किया तो वह निर्माण देखकर दंग रह गए। ईओ ने ठेकेदार को दोबारा सड़क का निर्माण कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

गौरतलब है कि नगर में विकास कार्य के नाम पर नगर पंचायत द्वारा तीन माह पूर्व नगर के अम्बेडकर नगर वार्ड नंबर एक में स्थानीय ठेकेदार के माध्यम से 10 से 11 लाख की लागत से राजकीय इंटर कालेज गेट से लेकर विजेन्द्र सिंह के घर तक सीसी सड़क बनवाई गई थी। परंतु सड़क निर्माण को अभी तीन माह भी नहीं बीते कि सड़क उखड़ना भी शुरू हो गई इधर मानकों के हिसाब से निर्माण सामग्री न लगाए जाने से जब सड़क भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई तो वार्डवासियों में आक्रोश फूट पड़ा और गुस्साए लोगों ने इसकी जांच के लिए लिखित शिकायती पत्र उप जिलाधिकारी को सौपा जिसके बाद उपजिलाधिकारी ने तत्काल ही नगर पंचायत प्रशासन द्वारा उक्त मामले की जांच करने के आदेश दिए इस पर मौके पर पहुंची ईओ राजू नाबियाल, जेई सलीम अली सहित अम्बेडकर नगर पहुंची और सड़क निर्माण को देखकर दोनों अधिकारी दंग रह गए। उन्होंने ठेकेदार की कड़ी फटकार लगाते हुए दोबारा सड़क बनवाए जाने के निर्देश दिए यही नहीं बल्कि मानक के अनुसार सड़क न बनाए जाने पर भुगतान न किए जाने की चेतावनी भी दी।

इससे पूर्व भी ठेकेदारों के द्वारा किए जा रहे कार्य रहते है चर्चा का विषय

ठेकेदारों के माध्यम से नगर में करवाए जा रहे निर्माण कार्यों में गोलमाल किए जाने यह कोई पहला मामला नही है इसे पहले भी सड़कों के निर्माण में घटिया निर्माण सामग्री लगाए जाने कि शिकायत लोग कर चुके है। लेकिन आज तक ना तो नगर पंचायत प्रशासन द्वारा उक्त ठेकेदारों पर कोई कार्रवाई की गई और ना ही निर्माण कार्यों में घोटाला किया जाना बंद हुआ है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*