covid curfew uttrakhand : कोविड कर्फ्यू पर नए मुख्यमंत्री का आज यह आ सकता है फैसला, होटलों के लिए जारी हुए कड़े आदेश

 

देहरादून: प्रदेश में बढ़ते पर्यटकों की संख्या को देख कोरोना संक्रमण के बढ़ने की चिंता और हाई कोर्ट की सख्ती को देखते हुए प्रदेश की धामी सरकार कोविड कर्फ्यू की अवधि एक सप्ताह और बढ़ाने पर विचार कर रही है। हालांकि इसमें सिनेमा हाल और खेल गतिविधियों को कुछ प्रतिबंधों के साथ शुरू करने की छूट देने की संभावना भी जताई गई है। रविवार को इस संबंध में बैठक बुलाई गई है। माना जा रहा है कि इसमें कोविड कफ्र्यू के साथ ही कुछ रियायत बढ़ाने पर फैसला लिया जा सकता है।

वर्तमान में लागू कोविड कफ्र्यू की अवधि 13 जुलाई को सुबह छह बजे समाप्त हो रही है। इस सप्ताह सरकार ने बाजार सुबह आठ से शाम सात बजे तक खोलने की इजाजत दी थी। इसके साथ ही जिम व शापिंग माल को भी 50 फीसद क्षमता के साथ खोलने की इजाजत दी थी। कोरोना संक्रमण के मामलों में अब काफी कमी आई है लेकिन सरकार फिर भी ढिलाई नहीं बरतना चाहती। क्योंकि पर्यटन सीजन के चलते पर्यटकों की एकाएक बड़ी संख्या को देखते हुए कोरोना संक्रमण के बढ़ने की चिंता भी सताती जा रही है, इधर हाई कोर्ट लगातार सख्ती बरतने को लेकर प्रदेश सरकार को चेताते जा रहा है। ऐसे मव फिलहाल कोई संभावना नजर नहीं आ रही है कि कोविड कर्फ्यू से राहत मिल सकेगी।

इसलिए कोविड कफ्र्यू की अवधि को सप्ताहभर आगे बढ़ाया जा सकता है। सूत्रों के अनुसार इस बार कोविड कफ्र्यू दुकानों को खोलने के समय को भी बढ़ाया जा सकता है। इसके साथ ही पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों को लेकर कुछ सख्ती भी की जा सकती है। कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई है। बावजूद इसके स्थिति पर नजर रखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कोविड से जनता की सुरक्षा सरकार की प्राथमिकता है। सभी पहलुओं पर विचार के बाद ही कफ्र्यू के संबंध में कोई निर्णय लिया जाएगा।

दून व नैनीताल में 50 फीसद क्षमता से संचालित होंगे होटल

देहरादून : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में पर्यटकों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर देहरादून और नैनीताल के होटलों को 50 फीसद क्षमता के साथ संचालित करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश में इस समय बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों से पर्यटक विभिन्न पर्यटन स्थलों की ओर रुख कर रहे हैं। इससे इन पर्यटन स्थलों पर भीड़ बढ़ गई हैं। पर्यटक कोरोना संक्रमण रोकने के लिए बनाए गए मानकों का अनुपालन भी नहीं कर रहे हैं। इससे कोरोना संक्रमण के प्रसार की आशंका बढऩे लगी है। इसे देखते हुए सरकार ने सख्ती करने का निर्णय लिया है। सरकार के निर्देशों पर शुक्रवार शाम को ही जिलाधिकारी देहरादून और जिलाधिकारी नैनीताल ने इन दोनों जिलों में केवल उन्हीं पर्यटकों को आने की अनुमति देने के आदेश जारी किए, जिनकी होटलों में बुकिंग थी और वे 72 घंटे के अवधि की आरटीपीसीआर रिपोर्ट लेकर आए हों। इनके अलावा अन्य सभी का इन जिलों में आना प्रतिबंधित कर दिया गया है। यह आदेश सोमवार सुबह आठ बजे तक के लिए प्रभावी हैं। इस बीच नई दिल्ली में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सरकार ने मसूरी और नैनीताल के होटलों को 50 फीसद क्षमता के साथ संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जो पर्यटक मास्क नहीं पहन रहे हैं, उनका चालान किया जा रहा है। सरकार का प्रयास कोरोना संक्रमण रोकने के लिए बनाए गए मानकों का पूरा अनुपालन सुनिश्चित करना है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*