न बेटी का इश्क छिपा और न ही पिता का जुर्म, कौवे-कुत्तों ने खोला जघन्य हत्याकांड का राज।

न्यूज जंक्शन 24, शाहजहांपुर।

कहते हैं कि जुर्म के पैर नहीं होते, वह कभी न कभी पकड़ा ही जाता है। शाहजहांपुर जिले के दूल्हा पुर गांव की एक सनसनीखेज घटना भी इसी कड़ी का हिस्सा है। जहां एक बाप ने अपनी नाबालिग बेटी के गर्भवती होने के बाद उसका गला काटकर जमीन में दफना दिया। दिन बीतने के साथ महीना भी बीत गया, सोचा कि अब शायद किसी को पता नहीं चलेगा मगर कौवे और कुत्तों ने इस हत्याकांड का पर्दा ही हटा दिया। आखिरकार ना बेटी का इश्क छुपा और ना बाप का जुर्म।

ग्राम दूल्हापुर में पिता ने अपनी नाबालिग बेटी की हत्या कर शव को दफना दिया था। घटना की चर्चा तो गावं के हर जुबान पर थी लेकिन बोले कौन। यह हत्या प्रेम-प्रसंग के चलते हत्या कर दी गई थी। युवती की लाश खेत में गाड़ दी गई। जानकारी होने पर पुलिस ने पूरे खेत को खुदवा दिया, लेकिन युवती का शव नहीं मिल रहा था। पुलिस भी परेशान थी। गश्त रोजाना लग रही थी। पुलिस कर्मियों का दिमाग ठनका कि काफी दूर कौए की भीड़ एक ही जगह रोजाना क्यों दिख रहे हैं। यह एक ही जगह बैठकर काओं-काओं करते हैं। उसी जगह पर कुत्ते भी दिख रहे थे। शक होने पर पुलिस ने उस जगह को खुदवाया और युवती की लाश को बरामद कर लिया। शव फूल चुका था और कीड़े पड़ना शुरू हो गए थे। उसके बाद मंगलवार को पूरी रात पुलिस की गाड़ियों की सायरन बजती आवाज गांव में गूंजती रही।
पुलिस ने पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पूरा मामला खुलकर सामने आ गया। पिता का कहना है कि बेटी के संबंध किससे थे, यह नहीं बताने पर ही उसका गला काटकर हत्या कर दी और जमीन में दफना दिया। सोचा था कि किसी को पता नहीं चलेगा। मगर सब खुल गया। पुलिस अब किशोरी के संबंध तलाशने में जुट गई है। कई लोगों से पूछताछ की जा रही है। इस मामले में किसी करीबी का ही हाथ बताया जा रहा है, देर शाम किशोरी के शव का पोस्टमार्टम हुआ। जिसमें उसके गर्भवती होने की पुष्टि हुई।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*