Cyber crime-भारत में बैठकर अमेरिकियों को ठगते थे साइबर ठग, पुलिस ने ऐसे किया खुलासा

अहमदाबाद,। गुजरात पुलिस ने जल्द कर्ज दिलाने के नाम पर अमेरिकी नागरिकों को निशाना बनाने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का अहमदाबाद में भांडाफोड़ किया है और इस बाबत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।
अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि पुख्ता सूचना के आधार पर साइबर अपराध की टीम ने रविवार को जगतपुर इलाके में स्थित एक कॉल सेंटर पर छापा मारा और तीन लोगों को दबोच लिया, जिनकी पहचान भरतसिंह मंडोला (35),अखिलेश नायर (23) और अजय सोनवणे (28) के रूप में हुई है। वे सभी अहमदाबाद के रहने वाले हैं।
साइबर अपराध शाखा ने एक विज्ञप्ति में कहा कि आरोपी ‘यूएसए स्पीडी कैश लोन सेंटर के प्रतिनिधि बनकर अमेरिकियों को फोन करते थे और उन्हें जल्दी कर्ज दिलाने की पेशकश का लालच देते थे।
विज्ञप्ति के मुताबिक, लोगों का भरोसा जीतने और अपनी कंपनी की वास्तविकता पेश करने के लिए ‍वे एक विशेष सॉफ्टवेयर के जरिए फोन करते थे और लोगों को फोन स्क्रीन पर भारतीय के बजाय अमेरिकी नंबर नजर आता था।
जब पीड़ित ऋण लेने के लिए तैयार हो जाता था तो आरोपी कम क्रेडिट स्कोर होने की वजह से कर्ज जारी नहीं किए जाने की बात कहते थे।
विज्ञप्ति में बताया गया है कि इसके बाद वे पीड़तों से कहते थे कि कर्ज लेने के वास्ते क्रेडिट स्कोर बढ़ाने के लिए पहले लेन-देन शुल्क जमा कराएं।
पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश और सूचना एवं प्रौद्योगिकी कानून की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*