10.2 C
New York
Saturday, October 23, 2021

Buy now

उत्तराखंड पहुंचे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, बिजली को लेकर किए चार बड़े वादे

देहरादून। उत्तराखंड में सात महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां बढ़ गई हैं। इसी सिलसिले में रविवार को आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल देहरादून पहुंचे हैं। वह सुबह करीब साढ़े दस बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे। इसके बाद उनका काफिला देहरादून के लिए रवाना हो गया। एयरपोर्ट के बाहर पार्टी कार्यकर्ताओं की खासी भीड़ मौजूद रही, जिन्होंने केजरीवाल के समर्थन में जोरदार नारे लगाए। इस दौरान केजरीवाल ने कहा कि उत्तराखंडमें आप की सरकार बनी तो हर परिवार को 300 यूनिट बिजली मुफ्त देंगे। किसानों को भी मुफ्त बिजली देंगे और राज्य में पावर कट नहीं होगा। 24 घंटे बिजली दी जाएगी।

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : लखनऊ में भारी मात्रा में विस्फोटकों के साथ अलकायदा का आतंकवादी गिरफ्तार, दूसरे की तलाश जारी

यह भी पढ़ें : बागेश्वर के कपकोट में अतिवृष्टि, भूस्खलन में जमींदोज हुआ मकान, मलबे में दबकर पति, पत्नी व बेटे की मौत

कांग्रेस-भाजपा में सेटिंग, एक साल तुम, एक साल हम

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार अरविंद केजरीवाल उत्तराखंड के दौरे पर आए हैं। यहां दून में राजपुर रोड स्थित एक होटल में उन्होंने प्रेस कांफ्रेस की। उन्होंने कहा, सभी उत्तराखंडवासियों को मेरा नमस्कार। उत्तराखंड आकर अच्छा लग रहा है। भगवान ने इस देवभूमि को सबकुछ दिया। यहां मेहनती, अच्छे और ईमानदार लोग हैं, लेकिन उत्तराखंड के नेताओं और पार्टियों ने इसे बर्बाद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। आज उत्तराखंड में दो पार्टियां है। चक्की के दो पाटों की तरह इन दोनों पार्टियों के बीच में उत्तराखंड की जनता पिस रही है। दोनों पार्टियों ने आपस में सेटिंग्स कर रखी है। एक साल तुम, एक साल हम। केजरीवाल ने कहा कि सत्ताधारी पार्टी के पास सीएम ही नहीं है। पहली बार ऐसा हुआ होगा कि कोई पार्टी अपने ही सीएम को कह रही है कि हमारा सीएम बेकार है। वहीं, कांग्रेस एक महीने से विपक्ष का नेता ही नहीं चुन पा रही है। इन पार्टियों को जनता के विकास से कोई लेना-देना नहीं है। लोगों की आमदनी बढ़ नहीं रही, खर्चे बढ़ते जा रहे हैं।

बिजली का उठाया मुद्दा

केजरीवाल ने कहा कि उत्तराखंड जो बिजली बनाता है, दूसरे राज्यों को बिजली बेचता है, क्या किसी ने यहां की जनता को मुफ्त बिजली के बारे में सोचा? बिल्कुल नहीं, क्योंकि वह अपनी सत्ता के चक्कर में पड़े हुए हैं। मैंने यहां के एक मंत्री को टीवी में सुना। वह कह रहे थे कि हम 100 यूनिट बिजली फ्री देंगे। सुनकर अच्छा लगा, लेकिन चुनाव के ठीक पहले यह घोषणा पता नहीं पूरी होगी या नहीं। इस पर 24 घंटे के अंदर ही यहां के सीएम ने कह दिया कि ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है तो यहां की जनता को छह माह भी इंतजार नहीं करना पड़ा। उत्तराखंड के हर परिवार से कोई न कोई दिल्ली में रहता है। जो काम 70 साल में सभी पार्टियां नहीं कर पाई, वह आज दिल्ली में हो रहा है। वैसा ही विकास यहां उत्तराखंड में भी होगा। मैं उत्तराखंड के लोगों को भरोसा दिलाना चाहूंगा कि जो काम दिल्ली में किए वो तो करेंगे ही, इसके अलावा और काम भी करेंगे। केजरीवाल जो कहता है, वो करता है।

ये हैं चार बड़े वादे

केजरीवाल ने कहा कि मैं बिजली के क्षेत्र में चार बातों की गारंटी देकर जा रहा हूं।

  1. दिल्ली की तरह उत्तराखंड में हर परिवार को 300 यूनिट बिजली फ्री देंगे। दिल्ली में 200 यूनिट फ्री है।
  2. हमारे कार्यकर्ता घर-घर जा रहे हैं। तमाम ऐसे बिजली बिल देखने को मिले जो गलत भेजे जा रहे हैं। लोग चक्कर काट रहे हैं। लिहाजा पुराने बिल माफ किए जाएंगे।
  3. कोई पावर कट नहीं लगेगा। उत्तराखंड में 24 घंटे बिजली देंगे। दिल्ली में जब मैं सीएम बना तो गर्मियों में 8 घंटे का पावर कट होता था। हमने घर-घर जाकर काम करवाया। आज दिल्ली में 24 घंटे बिजली है।
  4. उत्तराखंड के किसानों को मुफ्त बिजली दी जाएगी। आज किसान गरीब है। अगर उसे ये लाभ देंगे तो उसकी जिंदगी आसान होगी।

केजरीवाल ने कहा कि हमारी सरकार बनने के बाद पहली कलम से ये चार घोषणाएं लागू कर दी जाएंगी। केवल 24 घंटे बिजली देने के मामले में 3-4 साल का समय लगेगा। मैं समझता हूं कि आज की इस घोषणा के बाद यहां के लोग खुश होंगे।

यह भी पढ़ें : UP में नाइट कर्फ्यू में मिली और ढील, सरकार ने समय दो घंटे और घंटाया, अब इतने समय तक रहेगा प्रतिबंध

यह भी पढ़ें : होटल में महिला सिपाही के साथ रंगरेलिया मना रहे थे सीओ साहब, पुलिस ने मारी ‘रेड’, जानिए फिर क्या हुआ

जल्दी सीएम का चेहरा सामने रखूंगा

इस दौरान उन्होंने कहा कि जल्दी ही उत्तराखंड आऊंगा और आपके सामने उत्तराखंड के सीएम फेस की घोषणा करके जाऊंगा। कहा कि आज हमारे देश में दो तरह की शिक्षा है। एक गरीब की और एक पैसे वाले की। यह मुद्दा मेरे दिल के करीब है। हमने दिल्ली में सरकारी स्कूल ऐसे कर दिए कि बड़े-बड़े घर के लोग भी सरकारी स्कूलों में बच्चों के दाखिले कर रहे हैं।

बोले- स्कूलों से फीस वापस कराएंगे

हमने पांच साल से दिल्ली में प्राइवेट स्कूलों को फीस नहीं बढ़ने दी। आप हमारी सरकार बनवाइये, हम स्कूलों से आपके पैसे वापस कराएंगे।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles