spot_img

रामनगर से हल्द्वानी आए देवर ने भाभी के चेहरे पर फेंका तेजाब, पिलाने की भी कोशिश

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी । दिवाली के त्योहार के मौके पर जहां लोग अपनों संग खुशियां बांट रहे थे, वहीं हल्द्वानी में एक युवक अपनी भाभी की हत्या की खौफनाक साजिश रच रहा था। अपने इस खतरनाक मंसूबे को अंजाम देने के लिए वह रामनगर से हल्द्वानी भी पहुंच गया। यहां आकर उसने अपनी भाभी के चेहरे पर तेजाब उडे़ल (Acid attack in haldwani) दिया, जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। उसकी आंखों की रोशनी भी कम हो गई। आरोपी ने पहले भाभी को तेजाब पिलाने की भी कोशिश की थी।

घटना बनभूलपुरा थानाक्षेत्र के ढोलक बस्ती की है। यहां रहने वाली लज्जावती दिवाली की दोपहर राजपुरा में रहने वाले अपने बेटे लाकेट के घर गई थी। वहां से वह शाम को अपने घर लौटी। उनके साथ लाकेट का चचेरा भाई चंदा भी था। चंदा अपनी चाची लज्जावती को घर के पास ही छोड़कर तुरंत लौट गया। इसी दौरान वहां लज्जावती का देवर फूलचंद भी पहुंच गया। फूलचंद रामनगर में रहता है और तीन नवंबर को ही रिश्तेदारी में ढोलक बस्ती आया था।

लज्जावती को अकेला देख फूलचंद ने उस पर तेजाब फेंक दिया (Acid attack in haldwani), जो लज्जावती के चेहरे पर गिरा। आंखों में भी तेजाब की कुछ बूंदें चली गईं। इस तेजाबी हमले में वह बुरी तरह झुलस गई और पास की ही झाड़ियों में गिरकर तड़पने लगी। इसी बीच उधर से लज्जावती के दूसरे देवर की पत्नी सरिता गुजरी तो लज्जावती को देख उसकी चीखें निकल गईं। उसने आननफानन में इसकी सूचना आसपास देने के साथ ही लाकेट के घर भी भिजवाई, जिसके बाद लाकेट ने अपनी मां को सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती कराया।

10 से 15 प्रतिशत तक झुलसा चेहरा

सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती लज्जावती की हालत चिंताजनक बनी हुई है। डाक्टरों के अनुसार एसिड (Acid attack in haldwani) से महिला का चेहरा 10 से 15 प्रतिशत तक झुलसा है। उसे आंखों से कम दिखाई दे रहा है।

पुलिस ने किया गिरफतार

घटना के बाद लाकेट ने बनभूलपुरा थाने पहुंचकर अपने चाचा फूलचंद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। थाना प्रभारी प्रमोद पाठक ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपित फूलचंद पर धारा 326 ए के तहत केस दर्ज किया है। देर शाम उसे गिरफ्तार भी कर लिया गया।

आरोपी ने दो बार तेजाब पीने का दबाव भी बनाया

अस्पताल में भर्ती लज्जावती ने अपने बेटे लाकेट को बताया कि आरोपित फूलचंद ने दोपहर में घर आकर अकेले में तेजाब पीने का दबाव भी बना रहा था। उसने मामले को हलके में लेकर यह बात किसी को नहीं बताई। देर शाम जब लज्जावती घर जा रही थी तो फूलचंद ने फिर रास्ता घेरकर तेजाब पीने को कहा। लज्जावती ने विरोध किया तो तेजाब चेहरे पर ही फेंक दिया (Acid attack in haldwani)। तेजाब के हमले के बाद वह झुलसकर झाडिय़ों में गिरकर 20 मिनट तक तड़पती रही।

आरोपी ने बताई हमले की यह वजह

पुलिस ने जब आरोपी को गिरफ्तार किया और पूछताछ की तो उसने बताया कि उसकी 12 साल की बेटी जरीना को पीलिया हो गया था। इलाज के लिए उसने भाभी लज्जावती से रुपये मांगे, जो उसने रुपये नहीं दिए। समय से इलाज नहीं मिलने पर बेटी की मौत हो गई थी। इसी का बदला लेने के लिए उसने तेजाब से हमला (Acid attack in haldwani) कर दिया।

ऐसे ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles