spot_img

धनतेरस आज, घर खरीदकर लाएं ये चीज, सोने-चांदी से भी ज्यादा है इसका महत्व

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी। आज से पांच दिवसीय प्रकाशोत्सव पर्व यानी दीपावली शुरू हो गई है। धनतेरस (Dhanteras) इस त्योहार का पहला दिन है। मान्यता है कि इस दिन खरीदी गई वस्तु 13 गुना ज्यादा फल देती है। इसलिए लोग सोना-चांदी या इससे बने आभूषण या फिर बर्तन खरीदते हैं। कई जगह पीतल या फूल के बने बर्तन खरीदने का भी रिवाज है, मगर इन सबमें एक और चीज है, जिसे धनतेरस के दिन खरीदने पर सबसे ज्यादा फल मिलता है। वह है झाड़ू (Dhanteras Broom)।

धनतेरस के दिन झाड़ू (Dhanteras Broom) खरीदने की भी परंपरा है जिसे बहुत ही शुभ माना जाता है। धनतेरस के दिन हर घर में एक नई झाड़ू जरूर खरीदना चाहिए। मत्स्य पुराण के अनुसार झाड़ू (Broom) को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है। घर में झाड़ू से पैर लग जाए तो इसे भी अशुभ माानते हैं। इसलिए घर में झाड़ू (Broom) से घर साफ करने के बाद ऐसी जगह रखा जाता है जहां पैर नहीं लगे।

मान्यताओं के मुताबिक झाड़ू (Broom) को सुख-शांति बढ़ाने और दुष्ट शक्तियों का सर्वनाश करने वाला बताया गया है। झाड़ू घर से दरिद्रता हटाती है। धनतेरस पर घर में नई झाड़ू (Broom) से झाड़ लगाने से कर्ज से भी मुक्ति मिलती है। इसलिए इस दिन झाड़ू खरीदने की पुरानी परंपरा है। शास्त्रों के अनुसार धनतेरस के दिन झाड़ू (Dhanteras Broom) खरीदने से लक्ष्मी माता रुठकर घर से बाहर नहीं जाती हैं और वह घर में स्थिर रहती है। इस दिन लोग झाड़ू खरीदकर अपने घरों में रखते हैं और लक्ष्मी माता का स्वागत करने के लिए पूरी रात जागरण करते हैं। झाड़ू से घर में सकारात्मकता का संचार होता है। यही वजह है कि हर घर में सफाई के तौर पर सबसे पहले झाड़ू लगाया जाता है।

झाड़ू मां लक्ष्मी का रूप 

ज्योतिषाचार्य मंजू जोशी बताती हैं कि इस दिन झाड़ू खरीदने की भी परंपरा है जिसे बहुत ही शुभ माना जाता है। धनतेरस के दिन हर घर में एक नई झाड़ू (Dhanteras Broom) जरूर खरीदना चाहिए। मत्स्य पुराण के अनुसार झाड़ू को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है। घर में झाड़ू के पैर लग जाए तो इसे भी अशुभ माानते हैं। इसलिए घर में झाड़ू से घर साफ करने के बाद ऐसी जगह रखा जाता है जहां पैर नहीं लगे। क्योंकि झाड़ू का मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है।

झाड़ू घर से दरिद्रता हटाती है

मंजू जोशी का कहना है कि मान्यताओं के मुताबिक झाड़ू को सुख-शांति बढ़ाने और दुष्ट शक्तियों का सर्वनाश करने वाला भी बताया गया है। ऐसी मान्यता है कि झाड़ू घर से दरिद्रता हटाती है और इससे दरिद्रता का नाश होता है। धनतेरस पर घर में नई झाड़ू से झाड़ लगाने से कर्ज से भी मुक्ति मिलती है, ऐसा भी माना जाता है। इसलिए इस दिन झाड़ू खरीदने की पुरानी परंपरा  है। शास्त्रों के अनुसार धनतेरस के दिन झाड़ू (Dhanteras Broom) खरीदने से लक्ष्मी माता रुठकर घर से बाहर नहीं जाती हैं और वह घर में स्थिर रहती है। इस दिन लोग झाड़ू खरीदकर अपने घरों में रखते हैं और लक्ष्मी माता का स्वागत करने के लिए पूरी रात जगते हैं। झाड़ू से घर में सकारात्मकता का संचार होता है। यही वजह है कि हर घर में सफाई के तौर पर सबसे पहले झाड़ू लगाया जाता है।

मंजू जोशी ने बताया कि पुराणों में कहा गया है कि धनतेरस के दिन एक नहीं बल्कि तीन झाड़ू खरीदनी चाहिए। इस दिन खरीदी गई झाड़ू से दिवाली के दिन मंदिर में साफ-सफाई करना शुभ माना जाता है।

ऐसे ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles