spot_img

शर्मसार हुआ रिश्ता : पिता को जेल से बाहर निकालने के लिए बच्ची ने रच डाली साजिश, मामा पर लगाया सनसनीखेज आरोप, पुलिस ने ऐसे किया बेनकाब

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। उत्तर प्रदेश के रायबरेली में एक बच्ची ने ऐसा आरोप लगा दिया कि उसे सुनकर सभी के कान खड़े हो गए। मगर इससे भी चौंकाने वाली बात तब सामने आई, जब पुलिस ने मामले की पड़ताल की। फिर जो खुलासा हुआ, उसे सुनकर हर किसी के पैरों तले जमीन खिसक गई। दरअसल, मां के कत्ल में फंसे पिता को जेल से छुड़ाने के लिए बेटी ने मामले की पैरवी कर रहे मामा को ही फंसाने की साजिश रच डाली। उसने पुलिस को सूचना दी कि मामा ने सोते समय घर से उसका अपहरण कर लिया और दुष्कर्म का प्रयास किया।

घटना रायबरेली जिले के ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की है। यहां रहने वाली बालिका ने डायल 112 को सूचना दी कि वह अपनी दादी के साथ घर पर सो रही थी। इसी दौरान उसका मामा रात में घर आया और उसका अपहरण कर लिया। फिर खेत में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। बालिका ने कहा कि उसके चीखने चिल्लाने पर घरवाले और ग्रामीण मौके पर पहुंचे तो मामा धमकी देते हुए भाग गया। मामले की सूचना मिलते ही ऊंचाहार कोतवाल शिवशंकर सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और सभी बिंदुओं पर जांच पड़ताल शुरू की। पुलिस की जांच में पूरा मामला ही झूठा पाया गया।

कोतवाल शिवशंकर सिंह ने बताया कि बालिका का पिता अपनी ही पत्नी के कत्ल के आरोप में जेल में बंद है। मामले की पैरवी उसका मामा कर रहा है। उसी की पैरवी से बालिका का पिता सलाखों के पीछे पहुंचा है। अब घरवाले चाहते हैं कि यदि मामा के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो जाए तो दबाव बनाकर मामले में समझौता कर लिया जाएगा, जिसके चलते जेल में बंद व्यक्ति बाहर आ जाएगा। साथ ही मामा मामले की पैरवी करना भी बंद कर देगा। पुलिस का आरोप है कि यह सब बालिका ने अपने घरवालों के बहकावे में आकर किया।

 

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!