रोडवेज बस में पैसे मांगने पर किन्नर की पिटाई, उसके बाद जो हुआ उससे छूट गए पुलिस के भी पसीने

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

बुधवार को रोडवेज बस में बैठे यात्रियों से पैसे मांगने और यात्रियों के मना करने पर किन्नरों और यात्रियों के बीच जमकर हंगामा व मारपीट हुई। युवक ने किन्नर को पैसे मांगने पर पीट दिया। इसके साथ ही गुस्साए किन्नरों ने बस को रुकवा लिया और उसके आगे लेटकर युवक को गिरफ्तार करने की जिद पर अड़ गए। हंगामे की सूचना पर बारादरी व कैंट पुलिस मौके पर पहुंच गई और मामले को शांत किया।
बुधवार को सेटेलाइट बस अड्डे से लखनऊ के लिए रवाना हुई रोडवेज बस में किन्नर चढ़े और उन्होंने यात्रियों से पैसे मांगना शुरू किए तो एक युवक ने पैसे देने से मना कर दिया। इसके बाद किन्नरों ने उससे ज़बरदस्ती की तो युवक ने एक किन्नर का मोबाइल छीनकर उसे पीट दिया। इसके बाद गुस्साये किन्नरों ने बस को रोक लिया और अपने अन्य साथियों को भी बुला लिया। सेटेलाइट से कुछ दूरी पर ही हंगामे की सूचना डायल 112 पर दी गई। जिसके बाद भी कोई बात नहीं बनी तो कैंट व बारादरी पुलिस मौके पर पहुंची और किन्नर को समझाने का प्रयास किया। पुलिस के समझाने के बाद भी किन्नरों के न मानने पर पुलिस ने जबरन बस आगे बढ़ाने की बात कही तो सभी किन्नर बस के सामने लेट गए और बस को रोकना पड़ गया। हंगामे के बीच मारपीट करने वाला युवक वहां से जा चुका था। देर रात तक हंगामा चलने के बाद पुलिस ने किन्नरों को समझा-बुझाकर शांत किया और गिरफ्तार कर जेल भेजने का आश्वासन दिया। इसके बाद किन्नर शांत हुए और बस आगे जा सकी। इस मारपीट के दौरान युवक का मोबाइल बस में गिर गया जिसके आधार पर पता चला कि बदायूं के रहने वाले युवक का है जिसका भाई गांव का प्रधान है। पुलिस ने युवक के भाई के मोबाइल पर फोन कर युवक का फोन वापस देने की बात कही। इसके साथ ही किन्नर का मोबाइल भी पुलिस को पड़ा मिला है। जिसमें मिले एक नंबर पर पुलिस लगातार फोन कर रही है लेकिन फोन नहीं उठ रहा है। वही युवक भी देर रात डरा सहमा चौकी पहुंचा और उसने किन्नरों की करतूत बताई। जिसके बाद पुलिस ने उसकी डिटेल नोट कर उसका फोन वापस कर दिया।
हंगामे के दौरान पहुंची बारादरी पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाए घटनास्थल को कैंट थाने का एरिया बताया और कैंट पुलिस को सूचना दे दी। जिसके कारण यात्रियों को काफी देर तक परेशानी का सामना करना पड़ा। किन्नर रोजाना इसी तरह बसों में जबरदस्ती पैसों की मांग करते हैं। जिसे पुलिस कोई भी लगाम लगाने में नाकाम है और आए दिन लगातार मारपीट के मामले सामने आते रहते हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*