spot_img

अभी खत्म नहीं होगा किसान आदोलन, डटे रहेंगे किसान, जानें क्या बोले किसान नेता

न्यूज जंक्शन 24, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने तीन नए कृषि कानून (New Farm Laws) वापस लेने का एलान किया है। अब उम्मीद की जा रही थी कि उनके इस एलान से किसान अपना आंदोलन वापस ले लेंगे। लेकिन भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि कृषि कानूनों को संसद में रद्द किए जाने तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। बता दें कि पीएम मोदी ने कहा है कि तीनों कानून को वापस लेने के लिए संसद के आगामी सत्र में विधेयक लाया जाएगा।

राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने शुक्रवार को कहा कि संसद में विवादास्पद कानूनों को निरस्त करने के बाद ही, वे कृषि विरोधी कानूनों के खिलाफ चल रहा आंदोलन वापस लेंगे। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि सरकार को फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और दूसरे मुद्दों पर भी किसानों से बात करनी चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तीन नए कृषि कानूनों को निरस्त करने के निर्णय की घोषणा करने के बाद , बीकेयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता (Rakesh Tikait) ने यह ट्वीट किया। किसान इन कानूनों के खिलाफ पिछले साल नवंबर से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे थे। टिकैत (Rakesh Tikait) ने ट्वीट किया, ‘आंदोलन तत्काल वापस नहीं होगा, हम उस दिन का इंतजार करेंगे, जब कृषि कानूनों को संसद में रद्द किया जाएगा। सरकार, एमएसपी के साथ-साथ किसानों के दूसरे मुद्दों पर भी बातचीत करे।’

संयुक्त किसान मोर्चा भी बोला- आंदोलन अभी खत्म नहीं

किसान आंदोलन का नेतृत्‍व कर रहे संयुक्‍त किसान मोर्चा के प्रमुख किसान नेता डॉ. दर्शनपाल ने भी कहा कि अभी किसान आंदोलन को खत्‍म ना समझा जाए। एमएसपी पर कानून और बिजली संशोधन विधेयक जैसी प्रमुख मांगें अभी बाकी हैं, इसलिए किसान आंदोलन जैसा चल रहा है, फिलहाल वैसा ही चलता रहेगा। उन्‍होंने कहा कि किसानों का आंदोलन ना केवल तीन काले कानूनों को निरस्त करने के लिए है, बल्कि सभी कृषि उत्पादों और सभी किसानों के लिए लाभकारी मूल्य की वैधानिक गारंटी के लिए भी है। यानि एमएसपी (MSP) पर कानून जैसी किसानों की अहम मांग अभी बाकी है। साथ ही उन्‍होंने कहा कि इसी तरह बिजली संशोधन विधेयक को भी वापस लिया जाना अभी बाकी है।

ऐसे ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles