रानीबाग से नैनीताल तक रोपवे का पहला सर्वे पूरा, मुख्यमंत्री ने की घोषणा। अब यह होने जा रहा खास

न्यूज जंक्शन 24, नैनीताल।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को तल्लीताल में यूएनडीपी से एक करोड़ की लागत से स्थापित लेक के रियल मॉनिटरिंग सिस्टम का लोकार्पण किया। उन्होंने इस मौके पर तमाम घोषणाएं कीं।
कहा है कि उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ाने के लिए सरकार भरसक प्रयास कर रही है। अभी तक 2200 होम स्टे पंजीकृत हो चुके है। उन्होंने पर्वतीय इलाकों में बढ़ते तापमान पर चिंता जताई और कहा कि इसकी मुख्य वजह गर्मियों में लगने वाली दावानल है। सरकार दावानल की घटनाओं को रोकने को प्रयासरत है। केंद्र सरकार को 275 करोड़ का प्रोजेक्ट सौपा गया है। जो बहुत जल्द मंजूर हो जाएगा।
तल्लीताल में यूएनडीपी से एक करोड़ की लागत से स्थापित लेक के रियल मॉनिटरिंग सिस्टम के लोकार्पण में उन्होंने कहा कि रानीबाग से नैनीताल तक रोपवे निर्माण का सर्वे का पहला चरण पूरा हो चुका है। रानीबाग में डबल लेन पुल मंजूर हो चुका है। नैनीताल के साथ केदारनाथ, यमुनोत्री, मसूरी में भी रोपवे बनाया जा रहा है। नैनीताल के रैमजे अस्पताल को पीपीपी मोड में देने पर सहमति प्रदान की। भवन निर्माण की उत्तराखंड की शैली को प्रमोट किया जा रहा है। मुख्यमंत्री रावत ने अल्मोड़ा में गगास, द्वाराहाट में तड़ागताल, थरकोट पिथौरागढ़, सोंग देहरादून, कोलिढेक लोहाघाट में झील व डेम जल्द बनकर तैयार होने की जानकारी दी। नैनीताल में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की स्वीकृति हो गई है।
इस अवसर पर विधायक संजीव आर्या, जिला पंचायत अध्यक्ष बेला तोलिया, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत, नगर अध्यक्ष आनंद बिष्ट, दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश बोरा आदि मौजूद थे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*