spot_img

पूर्व CM हरीश रावत और बेटे आनंद रावत में तकरार के बाद हुआ प्यार, सोशल मीडिया पर नई पोस्ट की चर्चा

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी। पूर्व सीएम हरीश रावत और उनके बेटे यूथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष आनंद रावत के येड़ा विवाद के बाद एक नई पोस्ट सोशल मीडिया (Harish Rawat and Anand Rawat on social media) पर चर्चा में है। रावत ने एक टीवी चैनल पर आए इंटरव्यू को शेयर करते हुए अपने बेटे को ‘लगे रहो आनंद’ कहते हुए प्रोत्साहित किया है। चार मिनट का वीडियो आनंद द्वारा बेरोजगार को फ्रेंच सिखाने पर व अन्य सहयोग करने पर आधारित है।

रावत (Harish Rawat and Anand Rawat on social media) ने लिखा कि, अपने माझी से न शर्मिंदा रहो, रोज सूरज बनके ताबिंदा रहो, मौत से बचने की एक तरकीब है, दूसरों के जेहन में जिंदा रहो। आगे रावत ने कहा कि, सतत प्रयास ही सफलता की कुंजी है। मालूम हो कि कुछ दिन पहले आनंद ने सोशल मीडिया पर प्रदेश में रोजगार के मुद्दे पर सरकारी उदासीनता पर तंज कसती हुए पेास्ट की थी।

इसमें उन्होंने लिखा था कि उनके पिता पूर्व सीएम रावत भी उन्हें येड़ा ही समझते रहे हैं। पिता पुत्र को सोशल मीडिया (Harish Rawat and Anand Rawat on social media) पर चल रहा संवाद सियासी हल्कों में भी खासा चर्चा में है। आमने-सामने बैठकर बातचीत करने के बजाए सोशल मीडिया को मंच बनाने पर चटखारे भी लिए जा रहे हैं।

आनंद ने किया था कटाक्ष

बीते दिनों आनंद रावत (Harish Rawat and Anand Rawat on social media) ने रोजगार के मुद्दे पर फेसबुक पर लंबी-चौड़ी पोस्ट अपडेट की थी। इसमें उन्होंने जन्मदिन की बधाई व शोक संवेदना में व्यस्त रहने वाले नेताओं पर भी सवाल उठाए थे। लिखा था, ‘रोजगार के यह अवसर उपलब्ध कौन कराएगा? फिर वह सीधे कमेंट करने लगते हैं। आपके नेता अपने समर्थकों को उनके जन्मदिन पर बधाई या किसी परिचित के शोक संदेश वाले पोस्ट में व्यस्त हैं और आप लोग उनके क्रियाकलापों से खुश हैं। चाहे हरीश रावत हों या फिर किशोर उपाध्याय या फिर युवा नेता विनोद कंडारी, सुमित हृदयेश, ऋतु खंडूड़ी। इन सबके फेसबुक पर आपको यही पोस्ट दिखेगी, लेकिन राज्य के चिंतन पर कुछ नहीं मिलेगा। इसके बाद अपने पिता पर तंज कसते आनंद रावत ने लिखा था, ‘मेरे पिताजी मेरे ङ्क्षचतन व विचारों से परेशान रहते हैं। शायद उन्होंने हमेशा मेरी बातें एक नेता की दृष्टि से सुनी और मुझे येड़ा समझा।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!