आगरा : शौचालय का गड्ढा निगल गया तीन भाइयों व चाचा समेत पांच की जिंदगी, लाशें निकलीं तो मचा कोहराम

लखनऊ। आगरा के फतेहाबाद कस्बे में दिल दहला देने वाली घटना ने कोहराम मचा दिया है। यहां क्षेत्र के एक गांव में शौचालय के लिए बने गड्ढे में गिरे बच्चे को बचाने के चक्कर में चार और लोग गड्ढे में कूद गए, मगर जहरीली गैस का शिकार होकर पांचों की मौत हो गई।

फतेहाबाद के ग्राम प्रतापपुरा निवासी सुरेंद्र पुत्र किरोड़ी लाल के घर के बाहर शौचालय का गड्ढा खोदा गया था। तीन दिन पहले खोदे गए गड्ढे में पास बने एक और गड्ढे का पानी रिस कर आ गया, जिसके चलते उसमें करीब तीन फीट तक पानी भर गया। मंगलवार शाम सुरेंद्र का 10 साल का बेटा अनुराग खेलते समय शौचालय के गड्ढे में गिर गया था। उसमें पानी भरा होने के चलते वह डूबने लगा। उसे बचाने के लिए उसके दो भाई 16 वर्षीय हरि मोहन और 12 वर्षीय अविनाश भी गड्ढे में कूद गए और वे भी डूबने लगे। यह देख उनके पड़ोस में ही रहने वाले सुरेंद्र के चचेरे भाई 25 वर्षीय साेनू पुत्र रामसेवक भी गड्ढे में उतर गए। बाद में पड़ोसी योगेश पुत्र रामखिलाड़ी भी गड्ढे में उतर गया, मगर कोई बाहर नहीं निकल पाया।

करीब 15 फीट गहरे गड्ढे में गैस बन जाने से पांचों लोग बेहोश हो गए। जिसने भी यह देखा और सुना, सभी मौके पर पहुंच गए और पांचों लागों को गड्ढे से बाहर निकालकर निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां साेनू की मौत हो गई, जबकि चार को गंभीर अवस्था में आगरा रेफर कर दिया गया, मगर वहां चारों की भी मौत हो गई। इस हादसे से दाेनों परिवारों में कोहराम मच गया है। पूरे गांव में भी शोक की लहर छा गई है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*