सैनिक स्कूलों में बालिकाओं के दाखिले को लेकर सरकार का बड़ा एलान, पढ़ें और जानें क्या कहा सरकार ने

नई दिल्ली। देश के सभी सैनिक स्कूलों में बालिकाओं को भी प्रवेश देने का रास्ता साफ हाे गया है। इसी शैक्षणिक सत्र यानी 2021-22 से बालिका कैडेट्स को दाखिला मिलना शुरू जाएगा। यह जानकारी रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाईक ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर के दौरान दी। अभी तक कुछ ही सैनिक स्कूलों में बालिकाओं को प्रवेश देने की अनुमति थी।

लोकसभा में श्रीपद नाईक ने कहा कि शैक्षणिक सत्र 2018-19 में पहली बार सैनिक स्कूल छिंगछिप (मिजोरम) में छठवीं कक्षा में 54 बालकों के साथ 6 बालिका कैडेट्स को प्रवेश दिया गया था। 2019-20 में भी कुछ स्कूलों में बालिकाओं को प्रवेश दिया गया था। पायलट परियोजना की सफलता के बाद केंद्र सरकार ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 से सभी सैनिक विद्यालयों में बालक कैडेट्स के साथ बालिका कैडेट्स को भी प्रवेश देने का फैसला किया है। इसके साथ ही सरकार एनजीओ, निजी स्कूलों और राज्य सरकारों के साथ मिलकर देश में सैनिक स्कूलों की स्थापना के लिए एक नई योजना लाने की तैयारी कर रही है। इस बार के बजट में भी देशभर में 100 नए सैनिक स्कूल पूरे देशभर में खोलने का एलान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया था, जिसके बाद सरकार इस ओर तेजी से कदम बढ़ा रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*