दूसरे राज्यों में लाकडाउन की हवा पहुंची यूपी तक, सरकार के मंत्री ने दिया बड़ा बयान, बोले …

लखनऊ। देश में कोरोना मरीजों की संख्या एक बार फिर तेजी से बढ़ रही है। महाराष्ट्र के कई जिलों में लॉकडाउन लगाया जा चुका है। शादी व अंत्येष्टि कार्यक्रम रोक दिए गए हैं। मध्य प्रदेश और गुजरात में भी रात्रि कफ्र्यू लगा दिया गया है। एेसे में देश की सबसे बड़ी जनसंख्या वाले राज्य में अब सरकार का क्या कदम होगा, इसका जवाब ढूंढा जा रहा है। होली को देखते हुए एक बार फिर दूसरे प्रदेशों से आने वाले लोगों के कारण यहां भी कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जाने लगी है।

इस पर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने जवाब दिया है उन्होंने कहा है कि सरकार ऐसी स्थिति से निपटने की पूरी कर रही है। कोरोना जांच की संख्या बढ़ाई गई है और टारगेट टेस्टिंग पर हमारा ध्यान है। होली में बाहर से आने वालों की टेस्टिंग की जाएगी। कल प्रधानमंत्री मोदी के साथ कोरोना को लेकर बैठक भी है। उसमें केंद्र के निर्देशों का राज्य में पालन कराया जाएगा, मगर लॉकडाउन लगाने का कोई विचार नहीं है।

उन्होंने कहा कि कुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण में पुन: तेजी से वृद्धि हो रही है। उत्तर प्रदेश में भी कुछ जिलों में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। जिलों में इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर पूरी तरह सक्रिय कर दिए गए हैं। होली के मद्देनजर रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर यात्रियों की रैंडम व प्रारंभिक जांच होगी। इसके साथ ही उन्होंने साफ कर दिया कि यूपी में अभी लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू पर विचार नहीं किया जा रहा है। जहां कहीं मरीज मिलेंगे, वहां माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने का फैसला लिया गया है। एक मरीज मिलने पर भी माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। इसमें पहले की तरह व्यवस्था रहेगी।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मरीज मिलने पर उसके ढाई सौ मीटर की दायरे को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। इसमें आने वालों की स्क्रीनिंग के साथ जांच भी होगी। इलाके में मास्क न लगाने वालों का चालान भी किया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*