जीवन पर भारी पड़ी सरकारी लापरवाही, जल भराव में डूबकर मासूम बच्ची की मौत। पढ़िये खटीमा का घटनाक्रम

न्यूज जंक्शन 24, खटीमा।

सिंचाई विभाग की लापरवाही ने आज एक गरीब की मासूम बेटी की जान ले ली। सिसैया बंधा गांव में हुए जलभराव में घर के पास खेलते हुए दो साल की मासूम बच्ची डूब गई, जिससे उसकी मौत हो गई। घटना से गांव में कोहराम मच गया, ग्रामीणों में अधिकारियों के प्रति गुस्सा है। परिजन बिना पोस्टमार्टम कराए बच्ची को घर ले गए।
क्षेत्र के सिसैया बंधा गांव शारदा सागर डैम के किनारे बसा हुआ है। उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग द्वारा 10 दिन पूर्व डैम को भरने के लिए पानी छोड़ा था। डैम का पानी ओवर फ्लों होकर आवादी में आ पहुंचा। जिससे गांव में जलभराव की स्थिति बन गई। कई बार पूर्व में ग्रामीण इस समस्या से निजात दिलाने की मांग कर चुके हैं। परंतु उनकी मांग पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। यहीं वजह है कि गांव में हर बार डैम में पानी भरते समय जलभराव की स्थिति पैदा हो जाती है। गांव के पिंटू कुमार के घर के पास जलभराव हो रखा था। उनकी दो वर्षीय पुत्री कृर्तिका घर के पास ही खेल रही थी। इसी दौरान अचानक वह पानी में डूब गई। यह देख परिजन उसे बचाने के लिए पहुंचे। जिसके बाद उसे जैसे-तैसे पानी से बाहर निकाला। जिसके बाद परिजन उसे उपचार के लिए नागरिक चिकित्सालय लेकर आ रहे थे, परंतु बच्ची ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। जिसके बाद परिजन उसका बिना पोस्टमार्टम कराए घर ले गए। इस घटना से परिवार में कोहराम मच गया है। साथ ही पूरे गांव में मातम छाया हुआ है। पिंटू कुमार मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार की आजीविका चलाता है। उसका एक बड़ा पुत्र कार्तिक है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*