नोएडा के लुक्सर जेल में महिला होमगार्ड के अंडरगारमेंट में मिला मोबाइल फोन, कैदियों को इस तरह से कराती थी बात, लेती थी रुपये

लखनऊ। गौतमबुद्ध नगर के जिला कारागार लुक्सर जेल से चौंकाने वाली खबर है। यहां कैदी कर्मचारियों के मोबाइल फाेन से अपने परिजनों और दोस्तों से व्हाट्सऐप कॉलिंग किया करते थे। इसका खुलास दो रोज पहले हुआ, जब यहां महिला बैरक में तैनात महिला होमगार्ड के अंडरगारमेंट से मोबाइल फोन और चार्जर बरामद हुआ। यह हाल तब है जब यहां जैमर लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें : शिक्षक ने की अश्लील बातें, छात्रा ने गांव वालों के सामने चप्पलों से कर दी जमकर धुनाई, ग्रामीणों ने भी पीटा

यह भी पढ़ें : UP : बांदा जेल लाया गया मुख्तार, यहां पहुंचते ही हुआ यह हाल, होने लगी चर्चा, देखें वीडियो

जेल अधीक्षक भीमसेन मुकुंद ने बताया कि काफी समय से शिकायत मिल रही थी कि जेल के अंदर मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया जा रहा है। शिकायत के आधार पर महिला बैरक में बंदियों और कैदियों की तलाशी ली, लेकिन कुछ नहीं मिला। इसके बाद महिला होमगार्ड साधना की महिलाकर्मियों ने तलाशी ली तो उसके अंडरगारमेंट से मोबाइल और चार्जर बरामद कर लिया गया। हालांकि फोन में सिम नहीं था। अांशका जताई जा रही है कि साधना ने सिम निकालकर कहीं फेंक दिया या उसे निगल लिया।

पूछताछ के बाद साधना ने अधिकारियों को बताया कि मोबाइल किसी और होमगार्ड का है। जेल अधीक्षक ने बताया कि बरामद फोन से 6 से 7 नंबरों पर व्हाट्सऐप कॉलिंग की गई थी। आरोपी महिला होमगार्ड साधना 5 मिनट कॉल करने के बदले कैदियों से 100 रुपये वसूलती थी।

यह भी पढ़ें : मुख्तार की बढ़ी मुश्किलें, यूपी सरकार उठाने जा रही यह कदम, पूरी हुई मंशा तो खत्म हो जाएगा सियासी राज

जेल प्रशासन ने उसे कारागार अधिनियम में नामजद किया है। हालांकि आरोपी होमगार्ड प्रेग्नेंट है। इस घटनाक्रम के दौरान तबीयत खराब होने पर वह बेहोश हो गई थीं। इस कारण उससे ज्यादा पूछताछ नहीं हो सकी है।

जेल में जैमर लगे होने के बाद भी बात कैसे होती थी, इस सवाल पर जेल धीक्षक भीमसेन मुकुंद ने बताया कि जेल में लगा जैमर 2जी या 3जी का है। इसमें 4जी सिम से नेटवर्क आ जाते हैं, जिससे कॉल की जा सकती है। अब जेल के अंदर लगे जैमर को 4जी कराने की तैयारी की जा रही है।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*