पेश की मिसाल : मुस्लिम पिता ने हिंदू रीति-रिवाजों के साथ की बेटे की शादी

गाजीपुर। देशभर में जहां लव जिहाद की चर्चा छिड़ी हुई है। सरकारें इसके लिए कठोर कानून तक बना रही हैं, वहीं यूपी के गाजीपुर में एक मुस्लिम पिता ने अपने हिंदू रीति रिवाजों के साथ अपने बेटे की शादी कर मिसाल कायम की है।

गाजीपुर की सेवराई तहसील के बारा गांव में रहने वाले शेर खां ने 16 साल पहले हिंदू बच्चे पप्पू को गोद लिया था। बचपन में ही पप्पू के माता-पिता की मृत्यु हो गई थी। शेर खां ने पप्पू को अच्छी परवरिश दी। इसमें शेर खां के परिवार ने भी उनका साथ दिया। पूरे परिवार ने उसे बेहतर तालीम दिलाई। सिर्फ यही नहीं, मुस्लिम परिवार में रहते हुए भी पप्पू को कभी यह एहसास नहीं होने दिया गया कि वह दूसरे धर्म का है। उसे सभी त्योहार मनाने की आजादी दी गई। इसी के साथ होली-दिवाली और अन्य त्योहारों को भी पूरा परिवार एक साथ धूमधाम से मनाता है।

इसके बाद जब पप्पू शादी के लायक हो गया तो शेर खां ने खुद शादी के लिए लड़की ढूंढी और हिंदू रीति रिवाजों के साथ उसकी शादी करवाई। उसकी शादी अतरौलिया गांव में रहने वाले एक हिंदू परिवार की बेची के साथ की गई है। शादी में पूरा परिवार शामिल हुआ। शादी के बाद भी पप्पू शेर खां के परिवार के साथ घर में ही रहेगा। शेर खां के किस्से की पूरे प्रदेश में चर्चा हो रही है।

पप्पू का कहना है कि इस परिवार में होली, दीवाली से लेकर सभी त्योहार मनाए जाते हैं। परिवार के सभी लोग मुझे बहुत प्यार करते हैं. मुझे कभी ऐसा महसूस नहीं होने दिया कि मेरे मां-बाप नहीं हैं मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे  यह परिवार मिला

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*