नीदरलैंड से आए पिता-पुत्र निकले कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

192
खबर शेयर करें -

अमित सक्सेना, केलाखेड़ा


नीदरलैंड के वर्ली से आए पिता-पुत्र के कोरोना संक्रमित निकलने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया. खुफिया विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग की टीम ने संक्रमित व्यक्ति के परिवार को होम क्वॉरेंटाइन कर दिया है।
जानकारी अनुसार नीदरलैंड के वर्ली में सिविल इंजीनियरिंग का काम कर रहे निकटवर्ती ग्राम टांडा डालचंद के एक व्यक्ति अपनी पत्नी व पुत्र के साथ 27 जुलाई को भारत आए, अपने क्षेत्र पहुंचने पर उन्होंने स्वयं जागरूकता दिखाते हुए स्वयं को निकटवर्ती कहलो होटल में क्वारंटाइन कर लिया।जहां संक्रमित व्यक्ति द्वारा सीएचसी बाजपुर की स्वास्थ्य टीम को सेंपलिंग कराने को कहा गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पति पत्नी और उनके पुत्र तीनों का सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया. रिपोर्ट में देरी के चलते उक्त दंपति तथा पुत्र का 2 अगस्त को रैपिड टेस्ट कराया गया जिसमें तीनों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। जिसके बाद तीनों को उनके घर भेज दिया गया।इसके बाद 3 अगस्त को उनकी वायरोलॉजी रिपोर्ट आ गई, जिसमें पिता व पुत्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर क्षेत्र में हड़कंप मच गया। खुफिया विभाग संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगो के बारे में जानकारी जुटाने में लग गई।

स्वास्थ्य विभाग पर लगाया लापरवाही का आरोप

संक्रमित पाए गए व्यक्ति तथा उसके भाई ने बाजपुर स्वास्थ्य विभाग की टीम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए बताया कि दिल्ली से अपने क्षेत्र पहुंचने के बाद वह लगातार सीएचसी बाजपुर मैं तैनात मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ पंकज माथुर को सेंपलिंग के लिए फोन करता रहा, किंतु विभाग को बहुत बार कहने पर 24 घंटे तक भी उक्त दंपति की सैंपलिंग नहीं की गई।वहीं दूसरी ओर संक्रमित व्यक्ति ने आरोप लगाते हुए बताया कि रिपोर्ट आने में भी देरी की गई, जबकि 2 अगस्त को लिए गए रैपिड टेस्ट में उसके परिवार की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। जिसके बाद उन्हें घर भेज दिया गया। इससे मेरे परिवार को खतरा हो सकता है।