महाराष्ट्र में कोरोना के मामले बढ़ते देख लगा रात्रि कर्फ्यू, इस नियम के साथ लॉक डाउन भी

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के भयावह रूप से बढ़ते मामलों के बीच पूरे राज्य में सप्ताहांत में रात्रि कर्फ्यू तथा लॉकडाउन समेत कड़े कार्यदिवस प्रतिबंध लागू किये जायेंगे। यह अप्रैल के अंत तक लागू रहेगा।
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमंडल की आपातकालीन बैठक में इस आशय का फैसला किया गया। इससे पहले श्री ठाकरे ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सभी पक्षों से विस्तार से विचार-विमर्श किया था।
राज्य के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने बैठक की जानकारी देते हुए कहा कि सोमवार से रात्रि कर्फ्यू और कड़े प्रतिबंध लागू हो जायेंगे। उन्होंने कहा कि सप्ताहांत कर्फ्यू शुक्रवार को आठ बजे से लागू होगा जो सोमवार को सुबह सात बजे समाप्त हो जाएगा। यह आगामी 3० अप्रैल तक लागू रहेगा।
उन्होंने कहा कि स्थानीय ट्रेनों समेत सार्वजनिक परिवहन सामान्य दिनों की तरह चलता रहेगा।
उन्होंने कहा कि सभी निजी कायार्लयों को भीड़ कम करने के उद्देश्य से घर से काम करने पर जोर देते हुए बंद कर दिये जायेंगे तथा विभाग प्रमुखों की मंजूरी के बाद सभी सरकारी कायार्लयों में 5० फीसदी उपस्थिति फिर से लागू की जाएगी। इस दौरान सभी बैठकें ऑनलाइन आयोजित की जायेंगी।
उन्होंने कहा कि सरकार के इस निर्णय से छूट प्राप्त संस्थानों में बैंक, शेयर बाजार, बीमा, फामार्स्यूटिकल्स, दूरसंचार, जल, बिजली और आपदा प्रबंधन विभाग शामिल हैं।
गौरतलब है कि राज्य में सक्रिय मामलों में 29,331 की और वृद्धि होने से इनकी संख्या रविवार को बढ़कर 4,3०,5०3 तक पहुंच गयी। इस दौरान संक्रमण के सवार्िधक एवं रिकॉर्ड (पूरे देश में) 57,०74 नये मामले सामने आने से संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 3० लाख के पार 3०,1०,597 पहुंच गयी है। इसी अवधि में 27,5०8 मरीजों के स्वस्थ होने से इस संक्रमण से निजात पाने वालों की संख्या बढ़कर 25 लाख के पार 25,22,823 हो गयी है तथा सबसे अधिक 222 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 55,878 तक पहुंच गया है।
महाराष्ट्र देश में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के बाद कुल मामलों, सक्रिय मामलों, कुल स्वस्थ होने वालों और इस वायरस से होने वाली मौत के मामले में पहले स्थान पर है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*