नैनीताल में एक चिकित्सक की कोरोना से मौत, बाकी और डॉक्टर भी संक्रमित।

हल्द्वानी। बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में 17 वर्ष तक, एवं आखिरी 6 माह प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक रहते हुए 21 जनवरी 2019 को सेवानिवृत्त हुए डा. कैप्टन राजेश साह का सोमवार सुबह कोरोना की वजह से हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में निधन हो गया है। वे स्वयं ‘छाती रोग विशेषज्ञ’ थे। उनकी पत्नी भी मुख्यालय में बीडी पांडे जिला महिला चिकित्साल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक तथा बाद में अल्मोड़ा जिले की मुख्य चिकित्सा अधिकारी रहने के बाद वर्तमान में देहरादून स्वास्थ्य निदेशालय में निदेशक के पद पर कार्यरत हैं। जबकि एक पुत्र बीएसएफ में अधिकारी एवं दूसरा पुत्र दिल्ली में मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है। इसके अलावा जिले में छह और चिकित्सक संक्रमित मिले हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 61 वर्षीय स्वर्गीय साह को गत शनिवार यानी 12 दिसंबर को जांच में कोरोना की पुष्टि हुई थी। किंतु उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे, यानी वे एसिम्प्टोमैटिक थे। लेकिन 13 दिसंबर को उन्हें लक्षण महसूस हुए। इस पर उन्होंने हल्द्वानी के एक विशेषज्ञ चिकित्सक से उपचार लिया। इसके बावजूद रात्रि में उन्हें फेफड़ों में समस्या आने लगी। इस पर सोमवार सुबह करीब आठ बजे उन्हें हल्द्वानी के सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, जहां करीब 15 मिनट बाद ही उन्होंने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*