ऑक्सीजन का टैंकर भी भटक गया रास्ता, आना था बरेली पहुंच गया लखनऊ

बरेली। अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए मोदीनगर प्लांट से लिक्विड ऑक्सीजन लेकर चला टैंकर मिलक के बाद अचानक रास्ता भटक गया। बताया जा रहा है कि टैंकर बरेली न आकर लखनऊ चला गया था। हालांकि जब टैंकर की लोकेशन ना मिलने पर अधिकारियों ने मालूमात किया तो पता चला आपात स्थिति होने की वजह से टैंकर को लखनऊ आने का आदेश दे दिया गया। इस संबंध में ड्रग आयुक्त संजय कुमार व डीएम नीतीश कुमार ने बताया कि मोदीनगर प्लांट से दूसरे टैंकर को मंगवा लिया गया है जो पहुंचने वाला है। जिसके बाद बरेली के अस्पतालों में भी ऑक्सीजन की कमी पूरी हो जाएगी। बता दें कि डीएम ने कैंप कार्यालय पर ऑक्सीजन प्लांट के संचालकों के साथ बैठक की थी।

पहले कच्चा माल काशीपुर से आता था लेकिन अब मोदीनगर से ऑक्सीजन का कच्चा माल मंगाया जा रहा है जिसे बरेली के तीन प्लांटों में उपचारित किया जाता है। जिसके बाद अस्पतालों में सप्लाई दी जाती है। ऑक्सीजन की मांग बढ़ने पर रविवार को मोदीनगर प्लांट से एक टैंकर चला था। मिलक तक उसकी लोकेशन अधिकारियों के पास थी लेकिन उसके बाद टैंकर गायब हो गया। ड्राइवर से संपर्क किया तो सामने आया पुलिस अभिरक्षा में टैंकर लखनऊ ले जाया जा रहा है। इसके बाद अफसरों ने आनन-फानन दूसरा लिक्विड ऑक्सीजन का टैंकर मोदीनगर से मंगवाया। सहायक आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि ऑक्सीजन टैंकर पर लखनऊ में भीड़ हमलावर हो गई थी। इसके बाद टैंकर पुलिस अभिरक्षा में लाया जा रहा है। बरेली में ऑक्सीजन की फिलहाल कोई कमी नहीं है। 22 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति सोमवार रात बरेली पहुंच गई मंगलवार को कोविड-19 अस्पताल राजश्री, खुश्लोक, मिशन सिद्धिविनायक, विनायक समेत 10 अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी। बरेली में ऑक्सीजन आपूर्ति की नोडल अधिकारी उर्मिला हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*