पतंजलि के पनीर की क्वालिटी फेल, प्रशासन ने की यह बड़ी कार्रवाई। जानिए यह निकलीं पनीर में कमियां

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून।

खाद्य पदार्थों में मिलावट तेजी से बढ़ रही है। अब पतंजलि जैसे ब्रांड का सैम्पल तक खाद्य सुरक्षा मानकों पर फिट नहीं बैठा है। एक साल पहले लिए गए सैम्पल की रिपोर्ट अब आई है, जिसमें पनीर अधोमानक पाया गया है। रिपोर्ट मिलने के बाद पतंजलि के खिलाफ एसडीएम कोर्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।
हरिद्वार के खाद्य सुरक्षा अधिकारी संतोष कुमार ने बताया कि 18 जुलाई 2019 को टीम ने पनियाला रोड स्थित एक दुकान से पनीर का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा था। जांच में सैंपल फेल हो गया है। उन्होंने बताया कि लैब रिपोर्ट में कहा गया है कि पनीर की क्वालिटी खराब है। मानकों के विपरीत पनीर में 30 प्रतिशत से कम फैट और उच्च नमी पाई गई है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी संतोष कुमार ने बताया कि पतंजलि पनीर की मार्केटिंग करती है जबकि मेरठ की निर्माता फर्म नेचर आर्गेनिक प्रोडक्ट पतंजलि को पनीर उपलब्ध कराती है।
एक सप्लायर के जरिए पनीर मार्केट में बेचा जाता है। तीनों के खिलाफ एडीएम वित्त एवं राजस्व कोर्ट में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*