अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, 1,583 करोड़ रुपये से अधिक की दी सौगात

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे हुए हैं, जहां उन्होंने 1,583 करोड़ रुपये से अधिक की विकास कार्य परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इसके बाद जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आप लोगों से मुलाकात का असवर मिला। पीएम मोदी ने कहा कि काशी के लोगों को मेरा प्रणाम। पीएम मोदी ने कहा कि आज काशी के विकास से जुड़े 1475 करोड़ रुपये से अधिक के प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण करने का अवसर मुझे मिला है। बनारस के विकास के लिए जो कुछ भी हो रहा है वो सबकुछ महादेव के आशीर्वाद और बनारस की जनता के प्रयास से ही जारी है। पीएम मोदी ने कहा कि बीते कुछ महीने हम सभी के लिए बहुत मुश्किल भरे रहे हैं। कोरोना वायरस के बदले हुए और खतरनाक रूप ने पूरी ताकत के साथ हमला किया था। लेकिन काशी सहित पूरे यूपी ने पूरे सामर्थ्य के साथ इतने बड़े संकट का मुकाबला किया। प्रधानमंत्री के साथ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद थे।

यूपी सरकार की तारीफ

पीएम मोदी ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश पूरे देश में कोरोना की सबसे ज्यादा टेस्टिंग करने वाला राज्य है। आज उत्तर प्रदेश पूरे देश में सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन करने वाला राज्य है। साफ-सफाई और स्वास्थ्य से जुड़ा जो इंफ्रास्ट्रक्चर यूपी में तैयार हो रहा है। आज यूपी में गांवों के स्वास्थ्य केंद्र हों, मेडिकल कॉलेज हों, एम्स हो, मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर में अभूतपूर्व सुधार हो रहा है। उन्होंने कहा कि देश का सबसे बड़ा प्रदेश जिसकी आबादी दुनिया के दर्जनों बड़े-बड़े देशों से भी ज्यादा हो, वहां कोरोना की दूसरी लहर को जिस तरह यूपी ने संभाला, कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका वो अभूतपूर्व है। उन्होंने कहा कि मैं काशी के अपने साथियों का, यहां शासन-प्रशासन से लेकर कोरोना योद्धाओं की संपूर्ण टीम का विशेष रूप से आभारी हूं। आपने दिन-रात जुटकर जिस प्रकार काशी में व्यवस्थाएं खड़ी कीं, वो बहुत बड़ी सेवा है।

ये हैं विकास योजनाएं

पीएम ने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में 100 बिस्तरों वाले एमसीएच विंग, गोदौलिया में एक बहुस्तरीय पार्किंग, गंगा नदी में पर्यटन के विकास के लिए रो-रो नौकाओं और वाराणसी-गाजीपुर राजमार्ग पर तीन लेन वाले फ्लाईओवर पुल समेत विभिन्न सार्वजनिक परियोजनाओं एवं कार्यों का भी उद्घाटन किया। ये लगभग 744 करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाएं हैं। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने लगभग 839 करोड़ रुपये की लागत की कई परियोजनाओं और सार्वजनिक कार्यों की आधारशिला भी रखी। इनमें ‘सेंटर फॉर स्किल एंड टेक्निकल सपोर्ट ऑफ सेंट्रल इंस्टीच्यूट ऑफ पेट्रोकेमिकल इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी’ (सीआईपीईटी), जल जीवन मिशन के तहत 143 ग्रामीण परियोजनाएं और कारखियांव में आम एवं सब्जी के लिए एकीकृत पैक हाउस शामिल हैं।

रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का लोकार्पण

इन सभी में सबसे अधिक चर्चा रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर की हो रही है, जिसका पीएम ने आज लोकार्पण किया है। यह जापान और भारत के बीच की दोस्ती का प्रतीक है। 2015 में तत्कालीन जापान के प्रधानंत्री शिंजो आबे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी नींव रखी थी। यह शिवलिंग के आकार में बनाया गया है। इस डिजाइन को तैयार जापान की कंपनी ने किया है।

लोकार्पित होने वाली परियोजनाएं

  • 86 करोड़ रुपये का अंतरराष्ट्रीय सुविधा एवं सहयोग केंद्र रुद्राक्ष
  • 62.89 करोड़ रुपये का राजकीय चिकित्सालय पांडेयपुर में 50 शैया
  • महिला चिकित्सालय का अनावासीय भवन
  • 29.63 करोड़ रुपये का बीएचयू में रीजनल इंस्टीट्यूट आफ ऑफ थेल्मोलॉजी
  • 62.04 करोड़ रुपये का 33.91 किलोमीटर लंबे पंचक्रोशी परिक्रमा मार्ग का चौड़ीकरण
  • 50.17 करोड़ रुपये का वाराणसी-गाजीपुर मार्ग पर आरओबी
  • 20.25 करोड़ रुपये से राजघाट से अस्सी तक क्रूज वोट के संचालन का काम
  • चार पार्कों का सौंदर्यीकरण और 84 घाटों पर सूचना पट्ट
  • 14.21 करोड़ रुपये से मछोदरी स्मार्ट सीनियर सेकेंडरी स्कूल व स्किल डेवलपमेंट सेंटर का विकास
  • 21.17 करोड़ रुपये से गोदौलिया चौराहे पर मल्टीलेवल पार्किंग

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*