चार लाख की सुपारी दे कराई गई थी रुद्रपुर के पार्षद धामी की हत्या, एक शूटर गिरफ्तार। बरेली का यह नेता निकला षणयंत्रकारी….

न्यूज जंक्शन 24, रुद्रपुर।

रुद्रपुर नगर निगम के पार्षद प्रकाश धामी की हत्याकांड का खुलासा हो गया है। धामी की हत्या एक पूर्व सभासद ने कराई थी। इसके लिए चार शूटरों को चार लाख रुपये की सुपारी दी गई थी। एक शूटर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। यह उप्र के अलीगढ़ का रहने वाला है। बाकी सभी फरार हैं।
पार्षद प्रकाश धामी की हत्या 12 अक्टूबर को उनके घर के बाहर ही की गई थी। शूटरों ने आवाज लगाकर घर के बाहर बुलाया और फिर गोलियों से भून दिया था। इस पर पुलिस ने पांच अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर हत्यारोपितों की तलाश शुरू कर दी थी।
एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने इसका खुलासा करते हुए बताया कि पुलिस की सात टीम एसपी सिटी देवेंद्र पिंचा और एसपी क्राइम प्रमोद कुमार के नेतृत्व में लगाई गई थी। इस दौरान पता चला कि भदईपुरा निवासी पूर्व सभासद राजेश गंगवार और उसका छोटा भाई अन्नू गंगवार पार्षद प्रकाश धामी से रंजिश रखते हैं। 2017 में राजेश पर जानलेवा हमला करने वालों की पार्षद धामी पैरवी कर रहा था। साथ ही चुनाव के दौरान भी प्रकाश धामी और राजेश गंगवार के बीच विवाद हुआ था। एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि इस पर पुलिस पूर्व सभासद और अन्य हत्यारों की तलाश में जुट गई थी। गुरुवार को पुलिस को सटीक सूचना मिली कि हत्या में शामिल एक शूटर अलीगढ़ में है। इस पर कोतवाल एनएन पंत के नेतृत्व में पुलिस की टीम अलीगढ़ पहुंची और एक युवक को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम ग्राम बसेरा, थाना पिसावा, जिला अलीगढ़, यूपी निवासी राजकुमार उर्फ बिटू उर्फ अभिषेक पुत्र जयपाल उर्फ जगपाल बताया। बताया कि राजेश गंगवार और उसके भाई अन्नू ने अपने सितारगंज, सिसैया निवासी दोस्त दिनेश शर्मा पुत्र बाबूराम के साथ मिलकर प्रकाश धामी की हत्या का षड़यंत्र रचा। इसके लिए उसे और उसके तीन अन्य साथियों को चार लाख की सुपारी दी गई थी। कार, तमंचा, पिस्टल भी उपलब्ध कराए गए। 12 अक्टूबर की सुबह पार्षद के घर पहुंचे और नगर निगम संबंधी कार्य बताकर महत्वपूर्ण कागजों में पार्षद प्रकाश धामी के हस्ताक्षर कराने की बात कही। इससे बेखबर पार्षद धामी जब उन्हें घर के भीतर ले जा रहा था तो उन्होंने ताबड़तोड़ गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त तमंचा और तीन जिंदा कारतूस के साथ ही एक मोबाइल फोन बरामद किया। एसएसपी ने बताया कि फरार पूर्व सभासद राजेश गंगवार, उसके भाई अन्नू गंगवार और साथी दिनेश शर्मा के अलावा हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले फरार तीनों शूटरों की तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*