सहेली के देवर ने मिट्टी तेल डालकर जलाया था छात्रा को, होश में आने पर दिया सनसनीखेज बयान

 

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश में एक के बाद एक घटना पिछले एक-दो साल में ऐसी हो जा रही है, जो दिल दहला दे रही है। सोमवार शाम नगरिया मोड़ के पास हाईवे पर एक छात्रा आग से जलती हुई दौड़ती पहुंची। उसकी हालत देख आसपास खड़े लोगों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस को सूचना देने के साथ ही छात्रा पर कंबल डाल आग बुझाई गई। छात्रा की हालत नाजुक देख उचित इलाज के लिए लखनऊ रेफर कर दिया। उपचार के दौरान कुछ सुधार होने पर छात्रा ने बयान दे दिए। उसने बताया कि उसकी एक सहेली पिंकी है, उसने अपने देवर से मिलवाने के लिए कॉलेज से दूर करीब तीन किलोमीटर बुलवाया था। जहां वह पहुंची तो पिंकी के साथ उसका देवर था, साथ में दो लोग और थे। उन्होंने उसके ऊपर मिट्टी तेल डालकर आग लगा दी। यह कह वह बेहोश हो गई। चिकित्साधिकारी ने बताया कि जलाया क्यों इस बारे में छात्रा कुछ नहीं बता पाई है। होश में आने पर बात की जाएगी। इधर, शाहजहांपुर में एसपी ने बताया कि लड़की जहां से आग लगी अवस्था मे दौड़ी थी, वहां खेत है। जहां शराब की बोतल, नमकीन के पाउच आदि मिले हैं। जांच की जा रही है।

सोमवार शाम हाइवे पर नगरिया मोड़ के पास एक छात्रा आग से धधकती हुई दौड़कर पहुंच गई। वहां खड़े लोग यह देख दंग रह गए, कुछ लोगों ने दौड़कर छात्रा पर कंबल डाला तो कुछ ने पुलिस को सूचना दी। आनन फानन में पहुंची पुलिस ने छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया। वह कांट के भेंस्टाकला निवासी है और एसएस कालेज में बीए सेकेंड ईयर की छात्रा है। पुलिस का कहना है कि छात्रा की हालत नाजुक है, उसको इलाज के लिए लखनऊ रैफर कर दिया है। छात्रा पिता उसको कॉलेज छोड़कर गए थे। उसके बाद छात्रा घर नहीं पहुंची। पिता तलाश में कॉलेज भी गए मगर कोई सही जानकारी नहीं मिली। देर शाम गांव के प्रधान ने उसके जलने की जानकारी पिता को दी तो वह हैरान रह गया। एसपी एस आनंद का कहना है कि फिलहाल छात्रा की हालत पूछताछ करने लायक नहीं है। बाबजूद पुलिस जांच कर रही है। आशंका है कि छात्रा को पेट्रोल डालकर जलाया गया है। छात्रा के शरीर पर कपड़े नहीं थे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*