12.9 C
New York
Sunday, October 24, 2021

Buy now

Uttrakhand में सनसनीखेज वारदात, डकैती के केस में गिरफ्तार बदमाश सिपाही की हत्या कर हुआ फरार, मचा हड़कंप

देहरादून। हरिद्वार में गुरुवार शाम को सनसनीखेज वारदात हो गई। यहां डकैती के मामले में गिरफ्तार किए गए एक बदमाश ने पुलिस के सिपाही की उसी की बंदूक से गोली मारकर हत्या कर दी और फरार भी हो गया। इस वारदात से पूरे शहर में हड़कंप मच गया। बदमाश को हरियाणा की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। वह उसके साथ को भी पकड़ने की फिराक में थी कि यह सनसनीखेज वारदात हो गई।

क्राइम ब्रांच फरीदाबाद की एक टीम निरीक्षक विमल दास की अगुवाई में हरिद्वार पहुंची थी। यहां आकर पुलिस टीम ने 28 सितंबर को फरीदाबाद में एक किराना कारोबारी के यहां हुई डकैती की वारदात को अंजाम देने के आरोप में फरार चल रहे चार आरोपियों को पकड़ लिया था और पांचवें आरोपित की धरपकड़ के लिए ही टीम पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग में घात लगाकर बैठी हुई थी। इसी दौरान पुलिस टीम की कार में बैठे गिरफ्तार किए गए एक बदमाश ने अचानक कांस्टेबल संदीप की बंदूक छीनकर उसी के ऊपर फायर कर दिया। गोली कॉन्स्टेबल के मुंह को भेदती हुई आर-पार हो गई।

यह भी पढ़ें : प्रेमी युगल को निर्वस्त्र कर गांव में एक किलोमीटर तक घुमाया, वीडियो वायरल होते ही हुआ कुछ ऐसा…

यह भी पढ़ें : 12 साल के बच्चे संग पार कर दी क्रूरता की हदें, सबक सिखाने के लिए जीभ में घुसेड़ दी कैंची

आनन-फानन में कॉन्स्टेबल संदीप को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे कनखल के रामकृष्ण मिशन अस्पताल रेफर कर दिया गया। अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने हरियाणा पुलिस के कांस्टेबल को मृत घोषित कर दिया। वहीं घटना को अंजाम देकर बदमाश फरार होने में कामयाब रहा।

घटना की जानकारी मिलने पर एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत, सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह कोतवाली प्रभारी राजेंद्र मौके पर पहुंचे। पुलिस ने पूरी जानकारी लेने के बाद क्षेत्र में फरार बदमाश की धरपकड़ के लिए कांबिंग शुरू कर दी है। सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि फरार बदमाश की तलाश कर रहे हैं। गिरफ्तार और फरार बदमाश यूपी के बलिया के बताए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : Ramnagar News : युवती को होटल ले जाकर चार लोगाें ने की दरिंदगी, वीडियो दिखाकर रात में फिर से अगवा करने का प्रयास

इलाकाई पुलिस को नहीं दी थी सूचना

फरीदाबाद क्राइम बांच बदमाशों की लोकेशन मिलने पर देर शाम हरिद्वार पहुंची थी। सटीक सूचना हाथ में होने के चलते लोकल पुलिस को उन्होंने सूचना तक नहीं दी। चार बदमाश पुलिस के हाथ आ गए थे। पांचवें बदमाश का इंतजार किया जा रहा था। तभी एक बदमाश हत्या कर फरार हो गया। इसके बाद इलाकाई पुलिस को सूचना दी गई। सूचना देने में भी देरी हुई। इसकी कारण तब तक सिपाही की हत्या कर आरोपी फरार हो गया।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles