spot_img

…तो महिलाओं में इस कारण से होती हैं गंभीर बीमारियां, भारत विकास परिषद की संगोष्ठी में डा. ज्योत्सना ने बताया कारण

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी। भारत विकास परिषद काठगोदाम शाखा की ओर से आज मंगलवार को दमुवाढूंगा के क्वींस पब्लिक स्कूल में महिला जागरूकता एवं स्वास्थ्य संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में भारी संख्या में महिलाओं ने भाग लिया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रांतीय संगठन सचिव डा. विनय खुल्लर, स्कूल महाप्रबंधक आरपी सिंह, अध्यक्ष दीपक माहेश्वरी, विक्रम कार्की और मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित डॉ. ज्योत्सना कुनियाल ने दीप प्रज्वलित करके किया।

संगोष्ठी की मुख्य वक्ता आयुर्वेदाचार्य डॉ. ज्योत्स्ना कुनियाल ने व्यक्ति के शरीर निर्माण के लिए पंचमहाभूत, शूक्ष्म शरीर, मन, बुध्दि व आत्मा के संयोग से शरीर निर्माण की प्रक्रिया का विस्तृत वर्णन किया। बताया कि महिला के शरी में रोगोत्पत्ति मुख्यत: पीआईडी श्रोणि में सूजन व संक्रमण का कारण माइक्रोआर्गेनिज्म कारक हैजो की सफाई की कमी, असुरक्षित यौन संबंध, परिवार नियोजन डिवाइस के कारण भी हो सकती है। इससे काफी गम्भीर रोग हो सकते हैं। जिसके लक्षण थकान, फॉयल स्राव, बुखार आना, पेट मे दर्द होना, असामान्य मासिक रक्तस्राव होना आदि है। तत्काल चिकित्सक से परामर्श लेना इससे बचाव का उपाय है।

उन्होंने बताया कि राजोनिवृत्ति के लक्षण में सारी शरीर की क्रियाएं क्षीण हो जाती है, वजन बढ़ना, हार्मोन का स्राव कम हो जाना, जिनसे ये लक्षण आ जाते हैं। इसलिए निरन्तर चिकित्सक से परामर्श लेते रहना चाहिये। कार्यक्रम मे स्वागतीय उद्बोधन दीपक महेशश्वरी ने किया, संचालन ममता खुल्लर ने किया। धन्यवाद ज्ञापित करते हुए डॉ. विनय खुल्लर ने कहा कि मातृ शक्ति स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहे। समय-समय पर परिषद ऐसे जागरूकता कार्यक्रम भविष्य में भी करता रहेगा। कार्यक्रम में दीपक बिस्ट, कनिका बमेटा, रेणुका, आरपी सिंह, विक्रम कार्की, गीता गिरी गोस्वामी, अनुराधा गुणवंत, भावना मेहरा, कविता बिस्ट, हरीश गोरा, गोधन बिस्ट, मोहन मेहरा आदि उपस्थित थे।

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!