ट्रेन में चोरी करते, फिर फ्लाइट से लखनऊ लौटते थे चोर, पुलिस ने पकड़ा तो ये हुआ खुलासा

न्यूज जंक्शन 24, कानपुर।

जीआरपी और आरपीएफ ने शताब्दी और राजधानी जैसी ट्रेनों में चोरी करने वाले दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। चोरी करने के लिए ही शताब्दी राजधानी में सफर करते थे और दिल्ली से फ्लाइट पकड़कर लखनऊ आ जाते थे। लगातार तीन चोरियां हुईं लेकिन पुलिस तब हरकत में आई जब मुजफ्फरपुर से भाजपा सांसद की पत्नी के 3 लाख रुपए से भरा बैग राजधानी से पार हो गया। सभी घटनाओं का मिलान किया गया तो एक संदिग्ध की पहचान हुई। उसका मोबाइल नंबर सर्विलांस पर लगाया गया तो पकड़ में आ गया। राजधानी एक्सप्रेस में तीसरी चोरी को अंजाम दिया और दिल्ली से अमौसी एयरपोर्ट लखनऊ उतरा तो पुलिस ने दबोच लिया। इसके पास से 1.95 लाख रुपये व उसके साथी के पास से 8 हजार रुपये और कार बरामद हुई है।
बिहार मुजफ्फरपुर से सांसद अजय निषाद पत्नी रमा के साथ 27 अक्टूबर को पटना राजधानी के एसी प्रथम के एचवन कोच में दिल्ली के लिए सवार हुए थे। रात में रमा टॉयलेट चली गईं और लौटीं तो पर्स पार हो चुका था। उसमें तीन लाख रुपए थे। सांसद ने दिल्ली स्टेशन पर मुकदमा दर्ज कराया था। रेलवे के सभी उच्चाधिकारियों से शिकायत की थी। इसके बाद जीआरपी और आरपीएफ ने जांच पड़ताल शुरू की। जांच में पता चला कि कानपुर सेंट्रल तक सब ठीक था। चोरी यहां से ट्रेन छूटने के बाद हुई। एसपी रेलवे मनोज झा और वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त आरपीएफ मनोज कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से जांच शुरू की। जांच में पता चला कि इसी ट्रेन में 18-19 अक्टूबर को भी रात ढाई से तीन बजे के बीच प्रथम श्रेणी कोच में चोरी हुई थी।

पंद्रह दिन के भीतर पटना राजधानी में तीन चोरी

आरपीएफ और जीआरपी के हत्थे चढ़े हाईप्रोफाइल लुटेरे पुनीत ने 15 दिनों के भीतर तीन बार पटना राजधानी एक्सप्रेस में चोरी की। कानपुर से ही तीनों बार ट्रेन एक एसी थ्री कूपे में रिजर्वेशन करा चढ़ता था और रास्ते में वारदात को अंजाम देने के बाद दिल्ली स्टेशन पर उतरता था। घंटे-दो घंटे रुकने के बाद आटो या टैक्सी से दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचता था और फ्लाइट से अमौसी लौट आता था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*