विदा होकर आई दुल्हन ने कार से उतरते ही सभी के सामने कर दी दूल्हे पर थप्पड़ों की बौछार, पढ़िये हैरान करने वाला घटनाक्रम

 

जौनपुर : जिले के एक गांव में ऐसा घटनाक्रम सामने आया कि वह चारों ओर चर्चा का विषय बन गया। लड़का अपनी नई नवेली दुल्हन की विदा कराके घर लाया। दरवाजे पर कार रुकते ही महिलाएं मंगलगीत गाने लगीं। लड़के की भाभियां और बहने हंसी ठिठोलो करते हुए दुल्हन को कार से उतारने की तैयारी में लगी थीं, उधर कार चालक भी दुल्हन को उतारने से पहले अपना नेक मांग रहा था। सारे रिश्तेदार और गांव वालों की भीड़ जुट चुकी थी, इसी बीच दरवाजा खुला और दूल्हा नीचे उतरा। उसके बाद जैसे ही दुल्हन कार से नीचे उतरी कि उसने उतरते ही दूल्हे के मुंह पर थप्पड़ों की बौछार कर दी। यह देख हर कोई हतप्रभ रह गया। अधिकांश लोग इसे भूत-प्रेत का साया मानने लगे तो कोई कुछ। लेकिन सभी की आशंका दुल्हन ने दो मिनट में ही दूर कर दी। जब उसने यह बोल दिया कि पिटाई उसने अपने पूरे होश-हवास में की है। उसके बाद तो पूरा माहौल ही बदल गया। दुल्हन को गृहप्रवेश की जगह सभी लोग थाने लेकर पहुंच गए। थाने पर घंटों चली पंचायत के बाद आखिरकार मामला संबंध विच्छेद पर आ गया। दुल्हन भी शादी का जोड़ा उतार सादे लिबास में वापस मायके लौट गयी। मामले के पीछे दुल्हन का किसी से पुराना प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है। हालांकि, काफी देर तक बहस और विवाद के बाद मायके वालों की पहल पर दूल्‍हन को वापस बुलाकर मामले का पटाक्षेप किया गया। हालांकि, इस अनोखी वारदात को लेकर गांव और थाने ही नहीं बल्कि दुल्‍हन के परिवार और आस पड़ोस तक में काफी चर्चा का माहौल गर्म रहा।

सोमवार को पूरी तरह मामले का पटाक्षेप होने के बाद दोनों ही पक्षों के बीच वाद विवाद और तकरार के साथ ही आरोप का माहौल बना रहा। वहीं दूल्‍हा पक्ष की ओर से लड़की के वापस अपने घर चले जाने से लोगों ने सुकून महसूस किया। दूल्‍हा पक्ष का कहना था कि दुल्‍हन अगर घर में रहती तो आगे और न जाने क्‍या क्‍या उनको दिन देखने पड़ते। ऐसे में उसका अपने घर वापस चला जाना परिवार के हित में ही रहा। इस बाबत दूल्‍हा या दुल्‍हन पक्ष की ओर से सोमवार की शाम तक कोई विधिक कार्रवाई नहीं की गई थी।

यह था मामला

लवायन गांव निवासी युवक का विवाह खेतासराय थाना क्षेत्र के एक गांव में 20 जून को तय था। नियत तिथि को गाजे बाजे के साथ बारात खेतासराय थाना क्षेत्र के उक्त गांव निवासी दुल्हन के घर पहुंची। धूम धाम से विवाह संपन्न कराया गया। दूसरे दिन रविवार की सुबह दुल्हन विदा होकर दूल्हे के घर पहुंची। जहां गृह प्रवेश के दौरान दूल्हन ने दूल्हे को कई चाटे जड़ दिए। अचानक कई थप्‍पड़ खाने के बाद दूल्‍हे को जब तक कुछ समझ आता तक तक दूल्‍हन का गुस्‍सा सातवें आसमान पर था। क्रोध से भरी दूलहन ने ससुराल पक्ष के लोगों को भी चेतावनी देते हुए घर से जाने का फरमान सुना दिया। इसके बाद दूल्‍हे के घर परिवार के साथ मौजूद पड़ाेसियों तक में अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।

प्रेत बाधा की जताई आशंका

दूल्‍हे को थप्‍पड़ मारने के दौरान पहले तो लोगों ने सोचा कि दुल्हन पर कोई प्रेत- बाधा चल रही है। झाड़फूंक के लिए ओझा भी बुला लिया गया। हालांकि, दूल्हा पक्ष का आरोप है कि दूल्‍हन ने खुद स्वीकार किया कि उसका एक युवक से वर्षों से प्रेम प्रसंग चला आ रहा है। वह उसी के साथ रहना चाहती है। फिर वधू पक्ष के लोगों को बुलवाकर मामला थाने लाया गया। घंटों चली पंचायत के बाद भी दुल्हन राजी नहीं हुई। बाद में वह दुल्हन का जोड़ा उतार सादे लिबास में वापस मायके लौट गई। मायके वाले भी बिना किसी विवाद के अपनी बेटी को लेकर वापस रवाना हो गए। वहीं दूल्‍हा पक्ष की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

गांव भर में चर्चा

दरअसल दूल्‍हन को जब हंसी खुशी के माहौल में घर में प्रवेश कराने के दौरान परछन की रस्‍म चल रही थी उसी दौरान अचानक बगल में खड़े दूल्‍हे पर दूल्‍हन ने देखते ही देखते कई थप्‍पड़ रसीद कर दिया। आनन फानन जब तक सभी कुछ समझते विवाद को सुलझाने के लिए बड़े बुजुर्गों और परिजनों ने पहल की। किसी ने भूत प्रेत का साया बता कर ओझा तक बुला लिया लेकिन दूल्‍हन ने किसी की एक न सुनी और दूल्‍हे पर गुस्‍सा उतार कर परिजनों को शिकायत करने के बाद थाने में पंचायत बुला ली। काफी देर तक समझाने बुझाने और लोक लाज के साथ इज्‍जत का हवाला तक दिया गया लेकिन दूल्‍हन ने किसी की एक न सुनी। थाने में पुलिस की मौजूदगी में दूल्‍हन को विवाद के बाद मायके वालों के हवाले कर दिया। इस घटना की चर्चा से गांव के लोग सकते में रहे तो दूल्‍हे के घर भी खुशियों की जगह मातम पसरा रहा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*