CBSE : 10वीं की परीक्षा रद, 12वीं की परीक्षा टाली गई, प्रधानमंत्री के साथ तय हुआ यह शेड्यूल

 

नई दिल्ली: भारत में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री व सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों के साथ मीटिंग कर बड़ा फैसला लिया है। 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है, वहीं 12वीं की परीक्षाओं को टाल दिया है। अब छात्रों को कैसे प्रोन्नत किया जाएगा, इन विकल्पों पर तेजी से विचार चल रहा है।
देश में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए विपक्षी दल समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को टालने की मांग कर रहे थे। उस आधार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने बुधवार को प्रदेश के मुख्यमंत्रियों, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, केंद्रीय शिक्षा सचिव समेत अन्य सीबीएसई बोर्ड के शीर्ष पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में तय किया गया कि दसवीं की परीक्षा अब नहीं कराई जाएगी, छात्रों के पुराने प्रदर्शन के आधार पर ही प्रोन्नत किया जाएगा। दसवीं के छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर नंबर देने का निर्णय लिया गया है। यदि छात्र को लगता है की आंतरिक मूल्यों के आधार पर दिए गए अंक उसके लिए पर्याप्त नहीं है तो वह जब भी परीक्षा होगी उसमें बैठ सकता है। इसी तरह 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को टाल दिया गया है। हालांकि अभी यह परीक्षाएं कब होंगी इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। जून में परीक्षा को लेकर निर्णय होने की संभावना जताई जा रही है।

विदित रहे कि 4 मई को सीबीएसई 10th और 12th की बोर्ड परीक्षाएं शुरू होने का कार्यक्रम जारी हो चुका था। बाकी कक्षाओं की परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में कराई जानी थी। सीबीएसई ने इन कार्यक्रमों की घोषणा फरवरी में कर दी थी, उस वक्त कोरोना संक्रमण के मामले उतनी तेजी से नहीं बढ़ रहे थे। आज एक दिन में ही 1:30 से 1:45 लाख के सामने आने से कई राज्यों के मुख्यमंत्री और भारत सरकार चिंतित हो उठी। इधर, अभिभावकों में भी बच्चों को लेकर चिंता सताने लगी थी जिसको लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बैठक करने के बाद यह निर्णय लिया है। उन्होंने अधिकारियों से इस संबंध में और भी मंथन करने के निर्देश दिए हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*