दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराने पहुंची युवती, थाने में ही बेटी को दे दिया जन्म

इंदौर। मध्य प्रदेश में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंची युवती ने थाने में ही बच्ची को जन्म दे दिया। मामला छिंदवाड़ा के लावाघोघरी थाने का है।

थाने पहुंची युवती ने बताया कि गांव का एक युवक शादी का झांसा देकर उससे दुष्कर्म करता रहा। इस दौराप वह जब गर्भवती हो गई तो उसने युवक से शादी करने को कहा, मगर उसने इन्कार कर दिया। इसके बाद पीड़िता शिकायत लेकर थाने पहुंच गई। वह आपबीती बता रही थी कि इतने में ही उसे प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। यह देख थाने में तैनात महिला कांस्टेबल शीतल वाघमेरे ने उसे संभाला और डिलीवरी कराई। युवती और उसकी नवजात बेटी दोनों ही स्वस्थ हैं। फिर भी बेहतर चिकित्सकीय सुविधा के लिए उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आरोपी के घर वाले पहुंचे जिला अस्पताल

पूरे मामले की जानकारी होने पर आरोपी के घर वाले भी युवती का हाल जानने जिला अस्पताल पहुंच गए। हालांकि उन्होंने कहा कि शादी करना उनके बेटे की मर्जी है। वह जैसा चाहे कर सकता है, वह उस पर अपनी मर्जी नहीं थोपेंगे।

महिला कांस्टेबल ने नर्सिंग का किया है कोर्स

युवती का प्रसव कराने वाली कांस्टेबल शीतल वाघमेरी ने बताया कि उसने पुलिस में भर्ती होने से पहले नर्सिंग का कोर्स किया था। कोर्स के दौरान ही उसे डिलीवरी कराने की भी ट्रेनिंग दी गई थी, जो आज काम आई।

पुलिस ने नहीं दर्ज किया मुकदमा

इतना सब होने के बाद भी मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया है। थाना प्रभारी राकेश भारती का कहना है कि आरोपी युवक से फोन पर बात हुई है। उसे थाने बुलाया गया है। उससे बात करने के बाद वह एक केस के सिलसिले में थाने से बाहर चले गए थे, जब लौटे तो पीड़िता बच्ची को जन्म दे चुकी थी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*