दहेजलोभियों के आगे बेबस हुई मां तो बेटी ने मौत को लगा लिया गले, मंगेतर की इस बात ने कर दिया आहत

बदायूं । जिले के ऊझानी के सकरी जंगल गांव में एक युवती ने दहेज की मांग से परेशान होकर खुदकुशी कर ली। हैरानी की बात ये है कि उसकी अभी शादी भी नहीं हुई थी। घरवालों ने उसकी अभी सगाई ही की थी, मगर उसका मंगेतर शादी से पहले ही दहेज में बाइक और कुछ रुपये की मांग करने लगा। इसे लेकर पंचायत भी हुई, मगर कोई हल नहीं निकला। ऐसे में अपनी मां को परेशान देखकर युवती ने घर में फांसी का फंदा लगाकर जान दे दी। पुलिस ने मंगेतर के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है।

चौकी प्रभारी विशाल प्रताप सिंह ने बताया कि करीब डेढ़ महीने पहले सकरी जंगल गांव निवासी मरियम ने अपनी बेटी शमा का रिश्ता गांव के ही अतीक अहमद से तय किया था। शमा और अतीक की सगाई भी हो चुकी थी, मगर अतीक शादी से पहले ही दहेज में बाइक, कुछ रुपये और घरेलू सामान मांग रहा था। मरियम विधवा है और उसकी आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है। उसने दहेज का इंतजाम शादी होने के बाद तक करने का भरोसा दिया था, मगर अतीक अपनी मांग पर अड़ा रहा। इसे लेकर मरिजम ने सोमवार सुबह पंचायत बुलाई थी। पंचायत में भी लोग अतीक को समझाते रहे, मगर वह नहीं माना और कह दिया कि शमा चाहे मर जाए, मगर वह शादी बिना दहेज मिले नहीं करेगा। इसकी भनक घर में जब शमा को लगी तो उसने घर का दरवाजा बंद कर फांसी लगा ली। परिजन जब घर पहुंचे तो शमा को फंदे से झूलता देख कोहराम मच गया। इसकी जानकारी होने पर अतीक अपने परिजनों के साथ घर से भाग गया। चाैकी प्रभारी ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम करा लिया गया है और अतीक पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश में जगह-जगह दबिश दी जा रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*